CBSE 10th Result 2021: सीबीएसई ने नए स्कूलों के लिए 10वीं का रिजल्ट तैयार करने की प्रक्रिया में किया बदलाव, पढ़ें डिटेल

CBSE 10th Result 2021: शिक्षा सत्र 2019 और 2020 में मान्यता हासिल करने वाले स्कूलों के लिए सीबीएसई ने मूल्यांकन क्राइटेरिया में बदलाव करने की घोषणा की है। नए स्कूलों को जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर के रिजल्ट के मुताबिक छात्रों की योग्यता का मूल्यांकन करने को कहा गया है।

By: Dhirendra

Updated: 12 Jun 2021, 11:02 AM IST

CBSE 10th Result 2021: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने नए मान्यता प्राप्त स्कूलों के लिए 10वीं का परीक्षा परिणाम तैयार करने की प्रक्रिया में बदलाव की घोषणा की है। ये बदलाव उन स्कूलों के लिए किया गया है जिन्हें 2019 और 2020 शिक्षा सत्र में मान्यता मिली है। इन स्कूलों को 10वीं का रिजल्ट तैयार करने के लिए सीबीएसई के जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर के रिजल्ट के मुताबिक छात्रों की योग्यता का मूल्यांकन करना होगा। बोर्ड ने सभी स्कूलों को इससे संबंधित सूचनाएं जारी कर दी हैं।

Read More: Maharashtra HSC Result 2021: बारहवीं कक्षा के सभी विद्यार्थी आंतरिक मूल्याङ्कन के आधार होंगे पास, परिणामों की घोषणा जल्द

नए स्कूलों पर ये प्रावधान नहीं होता है लागू

अगर हम केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ( Central Board of Secondary Education ) पटना जोन की बात करें तो नए मान्यता प्राप्त स्कूलों की श्रेणी में 396 हैं। इसमें बिहार की बात करें तो 356 नये मान्यता प्राप्त स्कूलों को 2019 और 2020 सत्र में जारी सीबीएसई के जिला और राज्य स्तर के रिजल्ट के मुताबिक अंकों का निर्धारण करने को कहा गया है। दरअसल, सीबीएसई द्वारा 10वीं बोर्ड के रिजल्ट के लिए पिछले तीन सालों के बोर्ड रिजल्ट का क्राइटेरिया बनाया गया है। हर स्कूल को उनके पिछले तीन साल के बेस्ट रिजल्ट के अनुसार रिजल्ट तैयार करना है। ऐसे में नए मान्यता प्राप्त स्कूलों के पास समस्या ये है कि उनके पास पिछले तीन सालों का रिजल्ट नहीं है। इस कारण बोर्ड ने नए मान्यता प्राप्त स्कूलों को सीबीएसई के जिला और राज्य के रिजल्ट के मुताबिक छात्रों की योग्यता का मूल्यांकन करने को कहा गया है।

गलत मूल्यांकन से बचने के लिए उठाए ये कदम

इस बारे में सीबीएसई ( CBSE ) के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने बताया है कि नए मान्यता प्राप्त स्कूलों को जिला और राज्य के रिजल्ट के मुताबिक असेसमेंट करना है। इसकी जानकारी स्कूलों को दे दी गई है। साथ ही मूल्यांकर की क्राइटेरिया भी भेज दी गई है। सीबीएसई के मुताबिक गलत असेसमेंट करने पर बोर्ड का ऑनलाइन सिस्टम एक्सेप्ट नहीं करेगा। हर स्कूल को रिजल्ट तैयार करने के बाद बोर्ड द्वारा भेजे गए क्राइटेरिया से मिलान करना है।

Read More: VITEEE Results 2021: वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा के नतीजे किए जारी, यहां से करें चेक

Web Title: CBSE Changes aAssessment Process Pf 10 th Result 2021 For Newly Recognized Schools

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned