scriptNot Only Bikram Majithia these two reason also make trouble for Navjot Sidhu | Punjab Election 2022: बिक्रम मजीठिया के अलावा दो और वजह भी सिद्धू की जीत में बन सकती है बाधा | Patrika News

Punjab Election 2022: बिक्रम मजीठिया के अलावा दो और वजह भी सिद्धू की जीत में बन सकती है बाधा

Punjab Election 2022 को लेकर राजनीतिक दल अपनी ताकत झोंकने में लगे हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने भी शनिवार को पूर्वी अमृतसर से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। लेकिन उनकी राह इतनी आसान नहीं है। बिक्रम सिंह मजीठिया के अलावा दो और बड़ी वजह उनकी जीत में रोड़ा बन सकती हैं।

नई दिल्ली

Published: January 29, 2022 04:53:32 pm

Punjab Election 2022: नवजोत सिंह सिद्धू भले ही कांग्रेस के विधानसभा चुनाव जीतकर दोबार सत्ता में आने के दावे कर रहों, लेकिन सच तो ये हैं उनके खुद का चुनाव जीतना इतना आसान नहीं है। पार्टी में चल रही उठापटक के बीच नवोजत सिंह सिद्धू के लिए पूर्वी अमृतसर सीट से जीत हासिल करने के लिए तीन बड़ी बाधाओं को पार करना होगा। इनमें पहले बाधा है अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया, जो इसी सीट से उनके खिलाफ चुनावी मैदान में हैं। माना जा रहा है कि मजीठिया को बादल परिवार की पूरा सपोर्ट है। वो लगातार सिद्धू पर हमलावर भी हैं। हालांकि सिद्धू इसे चुनौती नहीं मानते हैं।
Not Only Bikram Majithia these two reason also make trouble for Navjot Sidhu
Not Only Bikram Majithia these two reason also make trouble for Navjot Sidhu
कांग्रेस को दोबारा सत्ता पर काबिज होना है तो उसके धुरंधरों को चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन करना होगा। ऐसे में कांग्रेस की नजर उनके फायरब्रांड नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर टिकी है, क्योंकि सिद्धू के चलते पार्टी ने कैप्टन अमरिंदर को नजरअंदाज किया था। हालांकि सिद्धू के लिए इस चुनाव में जीतना उतना आसान नहीं है। इसके पीछे दो और बड़ी वजह हैं।

यह भी पढ़ें

Punjab Election 2022: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्व अमृतसर से भरा नामांकन, जानिए किससे है टक्कर

अपने ही क्षेत्र के लोगों की नाराजगी


वर्ष 2017 में सिद्धू भले ही इस सीट से चुनाव जीतकर कैबिनेट में जगह बनाने में सफल रहे हों, लेकिन इस बार उनके लिए अपने ही क्षेत्र के लोगों की नाराजगी बड़ी चुनौती साबित हो सकती है।

अधूरे वादे और अधूरे विकास कार्य वे वजहें हैं जिनसे जनता का सिद्धू पर रोष बना हुआ है। सिद्धू का गोद लिया गांव अब भी विकास के लिए टकटकी लगाए बैठा है। इसके अलावा अपने क्षेत्र का दौरा ना करना भी सिद्धू को बड़ा झटका दे सकता है।

सिद्धू को लेकर लोगों की नाराजगी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनके लापता होने के पोस्टर इलाके में चस्पा कर दिए गए थे। यही नहीं ये भी कहा जा रहा है कि स्थानीय कार्यकर्ता भी सिद्धू की कार्यशैली से खुश नहीं है।
253.jpg

सिद्धू की सीट पर कैप्टन की नजर


एक तरफ सिद्धू के लिए बिक्र मजीठिया चुनौती बने हुए हैं तो दूसरी तरफ सिद्धू के घोर विरोधी रहे और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की नजर भी उनकी सीट पर बनी हुई है।
माना जा रहा है कि कैप्टन इस सीट पर अपनी पार्टी का प्रत्याशी खड़ा कर के सिद्धू की मुश्किल बढ़ाने वाले हैं।

सिद्धू के लिए लक्की है सीट


सिद्धू के लिए ये सीट लक्की है। 2021 में जहां नवजोत कौर सिद्धू ने बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ा और 7,000 वोटों के मामूली अंतर से चुनाव जीता। वहीं नवजोत सिंह सिद्धू ने 2017 का चुनाव 42,000 से अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की थी।

यह भी पढ़ें

NRI बहन ने लगाए नवजोत सिंह सिद्धू पर गंभीर आरोप, कहा-मां को किया बेघर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.