scriptSantoor maestro Pandit Bhajan Sopori passes away | मशहूर संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी का निधन, विरासत में मिली थी संतूर वादन की शिक्षा | Patrika News

मशहूर संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी का निधन, विरासत में मिली थी संतूर वादन की शिक्षा

संतूर वादक और प्रसिद्ध संगीतकार पंडित भजन सोपोरी का निधन हो गया है। उनका गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में इलाज चल रहा था। मशहूर संतूर वादक को पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

नई दिल्ली

Published: June 02, 2022 06:43:53 pm

मनोरंजन जगत से हाल ही ने एक बुरी खबर सामने आई है। खबर आई है कि, संतूर वादक और प्रसिद्ध संगीतकार पंडित भजन सोपोरी का निधन हो गया है। उनके निधन से मनोरंजन जगत को एक और बड़ा झटका लगा है। मनोरंजन जगत से इन दिनों एक के बाद एक निधन की खबरें आ रही हैं। जिसके बाद से चारों तरफ शोक का माहौल है। विश्वभर में प्रसिद्ध संतूर वादक शिव कुमार शर्मा, पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला, बॉलीवुड सिंगर कृष्णकुमार कुन्नथ उर्फ केके की मौत के बाद अब संतूर वादक व शिक्षक पंडित भजन सोपोरी के निधन की खबर है।
मशहूर संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी का निधन, विरासत में मिली थी संतूर वादन की शिक्षा
मशहूर संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी का निधन, विरासत में मिली थी संतूर वादन की शिक्षा
मशहूर संतूर वादक एवं पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित पंडित भजन सोपोरी ने गुरुवार को दुनिया को अलविदा कह दिया। उन्होंने गुरुग्राम के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह 74 वर्ष के थे। उनका जन्म वर्ष 1948 में श्रीनगर में हुआ था। उनका पूरा नाम भजन लाल सोपोरी है और इनके पिता पंडित एसएन सोपोरी भी एक संतूर वादी थे। वह भारतीय शास्त्रीय संगीत के सूफियाना घराने से संबंधित थे।
भजन सोपोरी ने अपने करियर में अपनी कला के माध्यम से बहुत नाम कमाया था। पंडित सोपोरी ने संतूर की कला की विद्या कहीं और नहीं बल्कि अपने घर में सीखी थीं। उनके दादा एससी सोपोरी और पिता एसएन सोपोरी से ही उन्हें इस कला का ज्ञान प्राप्त हुआ था। आप ये भी कह सकते हैं कि उन्हें इस कला का ज्ञान विरासत में मिली थी। इनके परिवार की 6 पीढ़ियां संगीत से जुड़ी रही हैं। इसके साथ ही पंडित सोपोरी और भी कई कलाओं से परिपूर्ण थे।
सिर्फ वादन ही नहीं बल्कि पंडित भडन सोपोरी गायन के भी बेहद शौकीन थे। संतूर वादन के साथ-साथ अपवे घर से उन्होंने गायक शौली भी हासिल की। जिसका नतीजा हमारे सामने है। उनके अलविदा कहने के बाद भी आज लोग उन्हें एक उम्दा कलाकार के रूप में याद कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें

कल सुप्रीम कोर्ट सुनाएगी फैसला, जगन्नाथ मंदिर के आसपास निर्माण कार्य रहेगा जारी या होगा बंद

भजन सोपोरी ने अंग्रेजी साहित्य में मास्टर्स डिग्री हासिल की थी। इसके उपरांत वाशिंगटन विश्वविद्यालय से पश्चिमी शास्त्रीय संगीत का अध्ययन भी किया। उन्होंने पांच साल की उम्र में अपना पहला प्रदर्शन दिया था। कई दशकों के करियर में उन्होंने मिस्र, इंग्लैंड, जर्मनी और साथ ही अमेरिका में प्रदर्शन किया। इसके अलावा भजन सोपोरी ने वाशिंगटन यूनिवर्सिटी में संगीत भी पढ़ाया।
सोपोरी को भारतीय शास्त्रीय संगीत में उनके योगदान के लिए 1992 में संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार और 2004 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। सोपोरी ‘सामापा’ (सोपोरी एकेडमी ऑफ म्यूजिक एंड परफार्मिग आर्ट्स) संगीत अकादमी चलाते थे। अकादमी देशभर से आने वाले छात्रों के अलावा जेल के कैदियों के लिए भी पाठ्यक्रम संचालित करता था। साल 2011 में इसे ‘जम्मू एवं कश्मीर डोगरी अवॉर्ड’ दिया गया था। मगर 74 साल की उम्र में सेहत ने उनका साथ देना थोड़ा कम कर दिया। उन्हें गुरुग्राम के अस्पताल में एडमिट जरूर करवाया गया, डॉक्टरों का भी पूरा प्रयास रहा, लेकिन गुरुवार को उन्होंने अंतिम सांस ली।

यह भी पढ़ें

Modi in Shimla : मॉल रोड पर अपनी मां की पेंटिंग देख पीएम मोदी ने रुकावाई अपनी कार, बनाने वाले को दिया आशीर्वाद

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंUdaipur Murder: कन्हैया के परिवार को 31 लाख मुआवजे का ऐलान, आतंकी हमले की आशंका से केंद्र ने Rajasthan भेजी NIA की टीमअमरनाथ यात्रा 2022 : जम्मू से कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवानाMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के विधायक आ सकते हैं मुंबई, महाराष्ट्र कैबिनेट की आज फिर होगी बैठकMumbai News Live Updates: महाराष्ट्र के सियासी संकट के बीच कल फ्लोर टेस्ट, राज्यपाल ने 30 जून को विधानसभा सत्र बुलाने के लिए भेजा पत्रनुपुर शर्मा के सपोर्टर की उदयपुर में हत्या के बाद हाई अलर्ट पर UP, अफसरों को सतर्क रहने के निर्देशदिल्ली के मंगोलपुरी में फैक्ट्री में लगी आग, दमकल की 26 गाड़ियां मौके परन्यायाधीश ने दो घंटे मोबाइल की टॉर्च की रोशनी में की सुनवाई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.