एसबीआइ ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, 1 दिसंबर से बंद हो जाएगी इंटरनेट बैंकिंग सेवा

एसबीआइ ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, 1 दिसंबर से बंद हो जाएगी इंटरनेट बैंकिंग सेवा

Manish Ranjan | Publish: Nov, 10 2018 10:52:57 AM (IST) फाइनेंस

यदि आप देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) के ग्राहक हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। देश का सबसे विश्वसनीय बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (एसबीआइ) 1 दिसंबर से अपनी इंटरनेट बैंकिंग सेवा बंद करने वाली है।

नई दिल्ली। यदि आप देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) के ग्राहक हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। देश का सबसे विश्वसनीय बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (एसबीआइ) 1 दिसंबर से अपनी इंटरनेट बैंकिंग सेवा बंद करने वाली है। दरअसल एसबीआइ ने अपने ग्राहकों के लिए एक मैसेज जारी किया है। जिसके तहत जो लोग बैंक में बिना नंबर जिस्टर्ड करवाए नेट बैंकिंग सुविधा का लाभ ले रहे हैं। उन ग्रहकों को 30 नवंबर तक अपने मोबाइल नंबर को बैंक में रजिस्टर्ड करवाना होगा। अगर ग्राहक ऐसा नहीं करते हैं तो उनकी नेट बैंकिंग सुविधा रोक दी जाएगी।

बंद हो जाएगी नेटबैंकिंग सुविधा

बैंक ने अपने वेबसाइट onlinesbi.com के जरिए ग्राहकों को यह मैसेज दिया है कि दिसंबर से पूरे देश में नेटबैंकिंग की सुविधा कई लोगों के लिए ब्लॉक हो जाएगी। ग्राहकों को सुविधा चालू रखने के लिए अपना मोबाइल नंबर बैंक की शाखा में जाकर के रजिस्टर कराना होगा। ऐसा नहीं करने पर नेटबैंकिंग की सुविधा को ब्लॉक कर दिया जाएगा। इसके बाद आप इंटरनेट बैंक‍िंग के जरिये लेन-देन नहीं कर पाएंगे।

नंबर रजिस्टर्ड है या नहीं, ऐसे लगाए पता

अगर आपको इस बात की खबर नहीं है कि आपका नंबर एसबीआई के साथ रजिस्टर्ड है या नहीं। तो आप इस बात का आसानी से पता लगा सकते है। आपको बैंक की वेबसाइट www.onlinesbi.com पर लॉगिन करना होगा। इसके बाद अपने माई अकाउंट और प्रोफाइल टैब पर क्लिक करना होगा। प्रोफाइल टैब पर पर्सनल डिटेल/मोबाइल पर क्लिक करेंगे। इसके बाद आपसे प्रोफाइल पासवर्ड मांगा जाएगा। प्रोफाइल पासवर्ड हमेशा लॉगिन पासवर्ड से अलग होता है। जैसे ही आप प्रोफाइल पासवर्ड सबमिट करेंगे वैसे ही आपको अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी दिखाई देगी। अगर मोबइल नंबर नहीं दिख रहा है तो आपको अपनी बैंक की शाखा में जाकर अपने नंबर को रजिस्टर्ड कराना होगा।

बैंक आपके खाते कर देगा ब्लॉक

हालांकि बैंक ने साफ किया है कि उन लोगों की नेटबैंकिंग सुविधा पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा जिनका मोबाइल नंबर बैंक के पास पहले से रजिस्टर्ड है। भारतीय रिजर्व बैंक के 6 जुलाई, 2017 को जारी सर्कुलर के अनुसार सभी बैंकिंग ग्राहकों को अपना मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी रजिस्टर कराना जरूरी है। ऐसा नहीं होने की दिशा में बैंक आपके खाते को भी ब्लॉक कर सकता है।

 

Ad Block is Banned