फुटबॉल : 42 साल बाद भारत को मिला किंग कप में खेलने का मौका, 5 जून से होगा आगाज

फुटबॉल : 42 साल बाद भारत को मिला किंग कप में खेलने का मौका, 5 जून से होगा आगाज

Mazkoor Alam | Publish: Apr, 09 2019 07:15:08 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • फीफा ने इस टूर्नामेंट को ए कैटेगरी में रखा है
  • 18 साल बाद फीफा रैंकिंग के किसी टूर्नामेंट में खेलेगा भारत
  • किंग कप का मौजूदा विजेता स्लोवाकिया है

नई दिल्ली : भारतीय पुरुष फुटबॉल टीम जून में थाईलैंड में 5 जून से होने वाले इन्विटेशनल किंग कप में 42 साल बाद भाग लेगी। इससे पहले भारत ने पिछली बार 1977 में इस टूर्नामेंट में भाग लिया था। इसकी जानकारी मंगलवार को अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) ने दी।

ए-कैटेगरी का है टूर्नामेंट
बता दें कि इस टूर्नामेंट को फुटबॉल की नियामक संस्था फीफा ने ए-कैटेगरी में रखा है। थाईलैंड फुटबाल संघ 1968 से इसका आयोजन करता आ रहा है। यह टूर्नामेंट थाईलैंड के बरीराम स्थित चांग एरेना स्टेडियम में खेले जाएंगे। इस टूर्नामेंट में मेजबान थाईलैंड और भारत के अलावा वियतनाम और कुराकाओ की टीम हिस्सा ले रही है। टूर्नामेंट का पिछला संस्करण स्लोवाकिया ने थाईलैंड को 3-2 से हराकर जीता था। इस बार इस टूर्नामेंट के दो मैच 5 जून को खेले जाएंगे। इसमें जीतने वाली टीम फाइनल में प्रवेश करेगा। इसके अलावा दो अन्य टीमें तीसरे स्थान के लिए मुकाबले करेंगी।

भारत के लिए बड़ा मौका
अप्रैल में अजारी फीफा रैंकिंग में भारत दो स्थान चढ़कर इस समय विश्व रैंकिंग में 101वें स्थान पर है। एशियाई देशों में भारत की रैंकिंग 18वीं है। इस टूर्नामेंट में मेजबान थाईलैंड (114) को छोड़कर भाग लेने वाली दोनों टीमें वियतनाम (98) और कुराकाओ (82) दोनों की रैंकिंग भारत से बेहतर है। इस टूर्नामेंट में खेलने का भारत को मौका मिलना बड़ी बात मानी जा रही है। इसकी वजह यह है कि 18 साल बाद भारत को किसी फीफा रैंकिंग वाले टूर्नामेंट में भाग लेने का अवसर प्राप्त हुआ है। इससे पहले 2001 में कुआलालम्पुर में आयोजित फीफा रैंकिंग टूर्नामेंट में भारत ने हिस्सा लिया था।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned