जिन लोगों को जेल से होना था रिहा, कोविड-19 के चलते 14 दिन और खानी होगी जेल की हवा

Highlights:

-बार एसोसिएशन के 2 सदस्यों में कोविड-19 की पुष्टि हुई है

-जज के आदेश पर पूरे न्यायालय परिसर को सैनिटाइज कराया गया है

-26 जून से 9 जुलाई तक न्यायालय परिसर पूरी तरह सील

By: Rahul Chauhan

Updated: 26 Jun 2020, 12:55 PM IST

गाजियाबाद। जनपद में कोविड-19 संक्रमण लगातार अपने पांव पसारता जा रहा है। अब यह संक्रमण गाजियाबाद की न्यायालय परिसर में भी जा पहुंचा है। जहां पर बार एसोसिएशन के 2 सदस्यों में कोविड-19 की पुष्टि हुई है। इसकी सूचना जिला जज को दी गई। जिसे गंभीरता से लेते हुए जज के आदेश पर पूरे न्यायालय परिसर को सैनिटाइज कराया गया है। साथ हीजनपद के न्यायालय परिसर को कन्टेनमेंट जोन- 2 मे घोषित किया गया है। जिसके चलते 26 जून से 9 जुलाई 2020 तक के लिये न्यायालय परिसर पूरी तरह सील कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें : हरियाणा और यूपी के वाहन चोर गैंग का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार, चोरी की 21 बाइक बरामद

जनपद न्यायालय गाजियाबाद में 10 जुलाई 20 को न्यायायिक कार्य होगा। इस दौरान होने वाली सभी केस की तारीख आगे बढ़ाई दी गई हैं। लेकिन इसका बड़ा असर उन बंदियों पर हुआ है, जिनकी बेल होनी थी और उन्हें जेल से छूटकर अपने घर पहुंचना था। कोर्ट में बेल का कार्य भी बिल्कुल बंद हो गया है। जिसके कारण जिन लोगों को इस दौरान जेल से छूट कर अपने घर पहुंचना था, अब उन्हें 14 दिन और जेल की ही रोटी खानी पड़ेगी।

यह भी पढ़ें: BJP के फायरब्रांड विधायक Sangeet Som के भाई पर लगे गंभीर आरोप, पुलिस ने कुर्क की संपत्ति

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए गाजियाबाद की जिला बार एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हरप्रीत सिंह जग्गी ने बताया कि बार एसोसिएशन के सदस्य अधिवक्ता के.बी सिंह व अधिवक्ता प्रदीप सक्सेना को कोरोना पॉजिटिव होने पर जनपद न्यायालय परिसर को कन्टेनमेंट जोन- 2 मे रखते हुए आगामी 14 दिवस 26 जून से 9 जुलाई 20 तक के लिये सील कर दिया गया है। जनपद न्यायालय गाजियाबाद में इस दौरान होने वाले सभी न्यायालय कार्य अब 10 जुलाई 2020 को होंगे।

coronavirus
Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned