हथियार के शौकीनों के लिए जरूरी खबर, अब सरेंडर करना होगा लाइसेंस, जानिये क्यों

Highlights:

-शासन द्वारा नोटिफिकेशन जारी कर 13 दिसंबर की गई थी निर्धारित

-प्रशासन ने ऐसे लोगों की सूची तैयार की जो इस नोटिफिकेेशन का पालन नहीं कर रहे

-तीन दिन के अंदर स्पष्टिकरण नहीं दिए जाने पर होगी कार्रवाई

By: Rahul Chauhan

Published: 16 Dec 2020, 09:55 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद। अगर आप भी हथियार के शौकीन हैं और शस्त्र रखते हैं तो यह खबर जरूरी साबित हो सकती है। कारण, अब प्रशासन ने ऐसे लोगों को नोटिस जारी किया है, जिन्होंने अभी तक अपना लाइसेंस सरेंडर नहीं किया है। दरअसल, शासन द्वारा तीन लाइसेंस रखने वालों के लिए एक आदेश जारी किया था। जिसमें कहा गया था कि जिनके पास तीन शस्त्र लाइसेंस हैं, उन्हें एक लाइसेंस सरेंडर करना होगा क्योंकि अब वह दो शस्त्र लाइसेंस ही रख सकते हैं और यदि वह सरेंडर नहीं करते तो तीसरा शस्त्र लाइसेंस रद्द माना जाएगा।

यह भी पढ़ें: आगरा में शुरू होने से पहले राेकना पड़ गया मैट्रो ट्रेन का काम, जानिए वजह

शासन द्वारा सरेंडर किए जाने की तारीख 13 दिसंबर निर्धारित की थी। शासन के इस आदेश के बाद प्रशासन ने एक नई सूची तैयार की है। जिसमें अभी तक विभिन्न थाना क्षेत्रों में रहने वाले नेताओं सहित कुल 26 लोग शामिल हैं।जिन्होंने अपना तीसरा शस्त्र लाइसेंस सरेंडर नहीं किया है। कई बार आदेश दिए जाने के बाद भी इन 26 लोगों ने अपना तीसरा शस्त्र लाइसेंस सुरेंद्र नहीं किया है। इसलिए अब प्रशासन ने इन सभी को नोटिस जारी किया है।

यह भी पढ़ें: आगरा में दिनदहाड़े बैंक से 56.50 लाख रुपये लूटकर बदमाश फरार

जानकारी के मुताबिक इन सभी लोगों से पूछा गया है कि बार-बार कहे जाने के बावजूद भी तीसरे शस्त्र को इन्होंने सरेंडर क्यों नहीं किया गया है। अब ऐसे लोगों को नोटिस भेजा गया है और तीन दिन के भीतर सबूतों सहित कारण बताने को कहा गया है। यदि इस अवधि में स्पष्ट कारण बताते हुए तीसरा शस्त्र जमा या सरेंडर नहींकिया जाता है तो फिर इसे शासनादेश का उल्लंघन माना जायेगा और कार्रवाई की जायेगी। अधिकारियों के मुताबिक तीसरा शस्त्र लाइसेंस सरेंडर नहीं करने वालों में सिहानी गेट थाना क्षेत्र नेहरू नगर के लोग ज्यादा शामिल हैं। इसके अलावा बापूधाम थाना क्षेत्र संजय नगर के लोग शामिल हैं। मसूरी, सिहानीगेट, कविनगर, घंटाघर कोतवाली, विजयनगर के लोग भी शामिल हैं।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned