जब 40 दिन बाद भी नहीं हुआ जिम ट्रेनर की हत्या का खुलासा तो परिजनों ने किया ऐसा काम

डासना के मयूर विहार निवासी जिम ट्रेनर परवेज़ सैफ़ी की 5 अक्टूबर को लोनी जाते समय टीला शहबाजपुर गांव में ऑटो से उतारकर बदमाशों ने मार दी थी गोली

By: Iftekhar

Updated: 15 Nov 2018, 04:22 PM IST

ग़ाज़ियाबाद. लोनी बोर्डर थाना क्षेत्र में हुई डासना देहात निवासी परवेज़ सैफ़ी की हत्या का खुलासा न होने से नाराज़ परिजनों ने बुधवार को जिलाधिकारी और एसएसपी को ज्ञापन सौंपा। परिजनों ने कहा कि परवेज़ की हत्या को 40 दिन बीतने के बाद भी पुलिस अभी तक हत्याकांड का खुलासा नहीं कर सकी है। गुस्साए परिजनों ने जल्द से जल्द हत्याकांड का खुलासा करके हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग की है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अरविन्द कुमार मौर्य ने बताया कि जिम ट्रेनर हत्याकांड को पुलिस चुनौती की तरह ले रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा विभिन्न पहलुओं से केस की छानबीन की जा रही है। जल्द ही हत्याकांड का खुलासा कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः अब मुठभेड़ से थर्राया सपा नेता आजम खान का शहर, पुलिस ने बदमाश को किया बेहाल

गौरतलब है कि 5 अक्टूबर को डासना के मयूर विहार निवासी जिम ट्रेनर परवेज़ सैफ़ी अपने ताऊ के घर लोनी जाते समय टीला शहबाजपुर गांव में ओमवीर प्रधान के घर के सामने अज्ञात हमलावरों ने ऑटो से उतार कर गोली मार दी थी। इसके बाद परवेज़ को जीटीबी अस्पताल ले जाया गया था। जहां जीटीबी अस्पताल में उपचार के दौरान परवेज़ की मौत हो गयी थी। हत्या को एक माह से अधिक होने के बाद भी पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लग सका है। मृतक के परिजनों ने थाना लोनी बॉडर में बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस अधिकारी का कहना है कि हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए दो टीमों का गठन किया गया था, जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned