scriptghazipur border nh-9 also opened after meerut expressway | गाजीपुर बॉर्डर खुलने से दिल्ली का सफर हुआ आसान, वाहनों की आवाजाही शुरू | Patrika News

गाजीपुर बॉर्डर खुलने से दिल्ली का सफर हुआ आसान, वाहनों की आवाजाही शुरू

यूपी के गाजीपुर बॉर्डर को पूरी तरह से खोल दिया गया है। यानी करीब 13 माह पहले की तरह यहां से दिल्ली का आवागमन शुरू हो गया है। किसानों की घर वापसी के बाद दिल्ली और यूपी पुलिस ने मार्ग से बैरिकेडिंग को पूरी तरह से हटा लिया है। मार्ग खुलने के साथ रोजाना दिल्ली अप-डाउन करने वाले लोगों को इससे बड़ी राहत मिली है।

गाज़ियाबाद

Published: December 18, 2021 12:43:41 pm

गाजियाबाद. यूपी के गाजीपुर बॉर्डर को पूरी तरह से खोल दिया गया है। यानी करीब 13 माह पहले की तरह यहां से दिल्ली का आवागमन शुरू हो गया है। बता दें कि किसान आंदोलन के चलते नेशनल हाईवे-9 को बंद कर दिया गया था। उसके बाद दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे को भी पूरी तरह से बंद किया गया था। सड़क पर ही किसानों ने तंबू लगा दिए थे। जबकि दिल्ली पुलिस और यूपी पुलिस की तरफ से भी बॉर्डर के दोनों तरफ लोहे और सीमेंट की बैरिकेडिंग कर दी गई थी। अब किसानों की घर वापसी के बाद दिल्ली और यूपी पुलिस ने मार्ग से बैरिकेडिंग को पूरी तरह से हटा लिया है। यहां पहले की तरह अब वाहनों ने फर्राटा भरना शुरू कर दिया है। मार्ग खुलने के साथ रोजाना दिल्ली अप-डाउन करने वाले लोगों को इससे बड़ी राहत मिली है।
ghazipur-border-nh-9-also-opened-after-meerut-expressway.jpg
उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों ने मोर्चा खाेलते हुए गाजीपुर और चिल्ला बार्डर को पूरी तरह बंद कर आंदोलन शुरू किया था। नोएडा के चिल्ला बॉर्डर को तो प्रशासन ने पहले ही खुलवा दिया था, लेकिन गाजियाबाद स्थित गाजीपुर बॉर्डर पर बड़े स्तर पर किसानों का आंदोलन लंबे समय तक चला। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत लगातार आंदोलन को धार देते रहे। आखिरकार 13 महीने बाद सरकार को किसानों के सामने झुकना पड़ा। सरकार के कानून वापस लेने के बाद भी किसान अन्य मांगाें को लेकर अड़ गए। इसके बाद सरकार ने मांगों पर समिति बनाने का निर्णय लिया, तब कहीं जाकर किसानों ने आंदोलन स्थगित करते हुए घर वापसी का फैसला लिया।
यह भी पढ़ें- CNG व PNG दोनों गैस हुईं महंगी, किफायती CNG से चलना हुआ महंगा

रोजाना दिल्ली जाने आने वालों को बड़ी राहत

किसान आंदोलन के चलते दिल्ली आने जाने वाले लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। सभी लोग दूसरे वैकल्पिक रास्तों को चुनकर घंटों की दूरी तय कर अपने गंतव्य तक पहुंच रहे थे, लेकिन अब किसानों की घर वापसी के बाद जहां एक तरफ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने राहत की सांस ली है। वहीं, दूसरी तरफ इस रास्ते से दिल्ली आने जाने वाले हजारों लोग भी बेहद खुश हैं। लोगों का कहना है कि मार्ग बंद होने के चलते उन्हें लंबी दूरी तय करनी पड़ रही थी। अब बॉर्डर खुलने से वह पहले की तरह दिल्ली आ जा सकेंगे।
आंदोलन स्थल पर सड़क मेंटेनेंस का कार्य जारी

बता दें कि सबसे पहले दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे को खोला गया था। वहीं, अब शुक्रवार को लोहे और सीमेंट की बैरिकेडिंग पूरी तरह से हटा दी गई है और नेशनल हाईवे-9 को भी पूरी तरह से खोल दिया गया है। इस रास्ते पर वाहनों की आवाजाही शुरू हो चुकी है। हालांकि अभी भी जिस स्थान पर आंदोलन चल रहा था, वहां और उसके आसपास सड़क मेंटेनेंस का कार्य जारी है।
यह भी पढ़ें- यूपी सरकार का एक रोचक तथ्य, साढ़े चार साल तक यूपी में कम से कम 50 जिलों में हमेशा धारा 144 लागू रही

महिलाओं के मन की बात

उत्तरप्रदेश में केंद्र व राज्य सरकार की महिलाओं से जुडी योजनाओं का क्या हाल है? क्या इनसे किसी तरह का सामाजिक बदलाव आया है? इस चुनावी माहौल में क्या है उत्तरप्रदेश की महिलाओं/बेटियों के मन में... कुछ सवालों के जवाब के जरिए पत्रिका को भेजें अपनी राय : इस लिंक पर - https://forms.gle/PHsay4TdHhTSUMAF6

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: पंजाब में चुनाव की तारीख टली, अब 20 फरवरी को होगी वोटिंगचुनाव आयोग का बड़ा फैसला, पत्रकारों सहित इन लोगों को मिलेगी पाँच राज्यों के चुनावों में पोस्टल बैलेट की सुविधापीएम मोदी की सुरक्षा में चूक मामले की जांच कर रहीं जस्टिस इंदु मल्होत्रा को SFJ ने दी धमकीहरक रावत की बीजेपी से छुट्टी पर सीएम पुष्कर धामी का बड़ा बयान, बोले- पार्टी पर बना रहे थे दबावभारत में एक दिन में कोरोना के 2.71 लाख नए मामले आए सामने, 314 की मौतPandit Birju Maharaj: कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज का निधन, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांसतमिलनाडु के Jallikattu उत्सव में पुलिसकर्मियों समेत कई लोग घायल, अस्पताल में भर्तीVivah Muhurat 2022: इस साल मई-जून महीने में होगी शादियों की भरमार, जानिए 2022 के विवाह के शुभ मुहूर्त
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.