Rapid Rail: सबसे खास रहने वाला है गाजियाबाद रैपिड रेल स्टेशन, 5 मंजिला मॉल बनाने की रफ्तार तेज

Rapid Rail: गाजियाबाद जिले की सीमा में रैपिड रेल के कुल सात स्टेशन बनाए जा रहे हैं। जिनमें साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई, मुरादनगर, मोदीनगर दक्षिण व मोदीनगर उत्तरी स्टेशन शामिल रहेंगे।

By: Nitish Pandey

Published: 13 Sep 2021, 11:12 AM IST

Rapid Rail: देश की राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद में रैपिड रेल का बन रहा गाजियाबाद स्टेशन सबसे खास रहने वाला है। क्योंकि सबसे ऊंचे बनाए जा रहे इस स्टेशन पर होटल, रेस्त्रां, शोरूम समेत अन्य व्यवसायिक गतिविधियां भी संचालित की जाएंगी। इसके लिए गाजियाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा पर्याप्त मात्रा में जमीन भी मुहैया कराई जा चुकी है।

यह भी पढ़ें : न्यूयॉर्क एयरपोर्ट की तरह जेवर एयरपोर्ट पर भी सुरंग में पार्क होंगे विमान

गाजियाबाद जिले में बनाए जाएंगे सात स्टेशन

गाजियाबाद जिले की सीमा में रैपिड रेल के कुल सात स्टेशन बनाए जा रहे हैं। जिनमें साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई, मुरादनगर, मोदीनगर दक्षिण व मोदीनगर उत्तरी स्टेशन शामिल रहेंगे। इतना ही नहीं आने वाले समय में रैपिड रेल का विस्तार होने के बाद गाजियाबाद का सबसे ऊंचा स्टेशन जंक्शन के रूप में देखा जा सकता है। क्योंकि जिस तरह से इस स्टेशन का विस्तार किया जा रहा है, आने वाले समय में इसे जंक्शन बनाए जाने की तैयारी मानी जा सकती है।

मॉडल के रुप में तैयार होगा स्टेशन

गाजियाबाद विकास प्रधिकरण के उपाध्यक्ष कृष्णा करुणेश ने बताया कि दिल्ली से मेरठ को जोड़ने के लिए रैपिड रेल का विस्तार किया जा रहा है। इस पर तेजी से काम चल रहा है। उन्होंने बताया कि गाजियाबाद में बनाया जा रहा रैपिड रेल का स्टेशन एक मॉडल के रूप में तैयार किया जा रहा है। जहां पर सभी सुविधाएं दी जाएंगी। इसके अलावा स्टेशन के आसपास यही करीब डेढ़ किलोमीटर के क्षेत्र को रैपिड रेल प्रभावित क्षेत्र घोषित कर व्यवसायिक व मिश्रित उपयोग को मान्य किया गया है।

स्टेशन के साथ तैयार होगा 5 मंजिला मॉल

जीडीए के उपाध्यक्ष कृष्णा करुणेश ने बताया कि निश्चित तौर पर रैपिड रेल की शुरुआत होने के बाद गाजियाबाद के अन्य हिस्सों पर भी तेजी से विकास होगा। उन्होंने बताया कि करीब 27000 वर्ग मीटर की जमीन पर स्टेशन के साथ 5 मंजिला एक मॉल भी बनाया जाएगा। यह मॉल भी साधारण नहीं बल्कि खास ही होगा। उन्होंने बताया कि हिण्डन मोटल्स इंडियन मोटल्स की लीज डीड खत्म होने के बाद जीडीए ने यह जमीन रैपिड रेल प्रोजेक्ट के लिए आरआरटीएस को दी गई है।

सुविधाओं से लैस होगा स्टेशन

जीडीए उपाध्यक्ष का कहना है कि मेरठ तिराहे पर ग्रेड सेपरेटर, मेट्रो लाइन पहले से ही होने के कारण गाजियाबाद के स्टेशन को करीब 98 फीट ऊंचा बनाया जा रहा है। यानी गाजियाबाद का यह स्टेशन सभी सुविधाओं से लैस होगा और सबसे आलीशान स्टेशन बनेगा। आने वाले समय में इस स्टेशन को सभी लोग मॉडल के रूप में देखेंगे।

यह भी पढ़ें : आतंकियों से मुठभेड़ में मेरठ का लाल शहीद, रविवार को पैतृक गांव पहुंचेगा पार्थिव शरीर

Nitish Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned