माेदीनगर काे बंदरों से मुक्त कराने की तैयारी में पालिका, दाे हजार से अधिक बंदर चिन्हित

  • माेदीनगर में बंदरों के आतंक से परेशान है लाेग
  • पालिका वन विभाग से मिलकर अभियान चलाएगी पालिका

By: shivmani tyagi

Updated: 20 Sep 2020, 08:33 PM IST

गाजियाबाद। मोदीनगर इलाके में रहने वाले लोगों को बंदरों के आतंक से जल्द निजात मिलेगी। नगर पालिका ने इसके लिए वन विभाग को पत्र लिखा है। अनुमति मिलते ही नगर पालिका की कार्यवाही शुरू हाे जाएगी। नगर पालिका की तैयारी करीब 2000 से अधिक बंदरों को पकड़ने की है।

यह भी पढ़ें: मौसम: सितंबर में उमस ने तोड़ा पिछले 9 साल का रिकार्ड

मोदीनगर शहरवासियों को जल्द ही बंदरों की समस्या से निजात मिलेगी। नगर पालिका द्वारा बंदरों को पकड़ने के लिए शहर में अभियान
चलाया जाएगा। इसके लिए वन विभाग को पत्र भी लिखा गया है। अनुमति मिलते ही नगर पालिका की टीम कार्य शुरू कर देगी। 2000 से
अधिक बंदरों को पकड़ने की योजना तैयार की गई है। मोदीनगर इलाके में रहने वाले लोग बन्दरों के आतंक से बेहद परेशान हैं और इन
दिनों बंदरों का आंतक चरम पर है। आए दिन बंदर किसी न किसी पर हमला कर उसे घायल कर देते हैं। पूरे दिन छतों पर बंदरों का जमावड़ा लगा रहता है, जिसके कारण लोगों ने छतों पर जाना भी बंद दिया है। छत पर सूखने वाले कपड़ों को भी बंदर फाड़ देते हैं।

यह भी पढ़ें: पति ने दी हौसलों को उड़ान तो पत्नी बनी क्लास-2 अधिकारी

लोगों को घर से बाहर जाना पड़ता है तो अकेले घर से निकलना दूभर रहता है। लोग झुंड बनाकर घर के बाहर या बाजार जाते हैं। एक वर्ष में 50 से अधिक लाेगाें काे हमला करके बंदर घायल कर चुके हैं। यहां की सभी कॉलोनियों में यही हाल है। बंदरों की समस्या से निजात दिलाने के लिए कॉलोनीवासी लगातार नगर पालिका के अधिकारियों से शिकायत कर रहे थे। कई सामाजिक संस्थाओं द्वारा भी बंदरों की समस्या को उठाया गया। जिस पर विचार करते हुए अब नगरपालिका के अधिकारियों ने नई योजना तैयार की है। अब अधिकारियों के इस प्रयास से लगता है कि मोदीनगर के लोगों को जल्द ही बन्दरों के आतंक से निजात मिल सकती है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned