55 वर्षीय दलित महिला से गैंगरेप का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, मायावती ने सरकार पर लगाए थे आरोप

ग्रेटर नोएडा के जेवर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में 55 वर्ष की दलित महिला से हथियार के बल पर बंधक बनाकर 4 लोगों से दुष्कर्म के मामले में पुलिस एक्शन मोड पर आ गई है। बसपा सुप्रीमो के मामले में नाराजगी जताने के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी पर 25 हजार का इनाम था। फिलहाल पुलिस दो फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है।

By: lokesh verma

Published: 14 Oct 2021, 11:27 AM IST

ग्रेटर नोएडा. जेवर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में 55 वर्ष की दलित महिला से हथियार के बल पर बंधक बनाकर 4 लोगों से दुष्कर्म के मामले में पुलिस एक्शन मोड पर आ गई है। बसपा सुप्रीमो के मामले में नाराजगी जताने के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी पर 25 हजार का इनाम था। फिलहाल पुलिस दो फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है।

पुलिस ने गैंगरेप के मुख्य आरोपी 25 हज़ार के रुपये इनामी बदमाश महेन्द्र पुत्र राजेन्द्र को जेवर थाना क्षेत्र के ग्राम दयानतपुर से नगला जहानू जाने वाली छोटी नहर की सड़क के पास से गिरफ्तार किया है। महेन्द्र पर आरोप है की उसने 55 वर्षीय की दलित महिला को हथियारों बंधक बनाकर अपने चार साथियों के साथ मिलकर सामूहिक दुष्कर्म किया है। इस ममले मे एक आरोपी को पुलिस पूर्व में ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

यह भी पढ़ें- पूर्व केंद्रीय मंत्री का भतीजा अंकित दास भी गिरफ्तार, आशीष की जमानत खारिज

72 घंटे के भीतर दबोचा मुख्य आरोपी

डीसीपी महिला सुरक्षा वृदा शुक्ला ने बताया कि गैंगरेप करने के आरोप में रविवार से फरार मुख्य आरोपी महेंद्र को पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें चार राज्यों में छापेमारी कर रही थी। पुलिस टीम ने 72 घंटे बाद मुख्य आरोपी को गांव नगला जहांनु के समीप से धर दबोचा है। पुलिस मुख्य आरोपी के साथी देवदत्त उर्फ देवु को सोमवार को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। पुलिस टीम इस मामले में फरार चल रहे दो और आरोपियों की तलाश कर रही है।

रिटायर्ड फौजी की बंदूक लेकर फरार हो गया था महेंद्र

डीसीपी ने बताया कि यह मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा। ग्रामीणों की मानें तो मुख्य आरोपी महेंद्र नशेड़ी किस्म का है। वह हर तरह का नशा करता है। वह कई वर्ष पूर्व अपने गांव के रिटायर्ड फौजी की लाइसेंसी बंदूक लेकर फरार हो गया था। उसने कई दिनों तक बंदूक अपने पास रखी थी। काफी दबाव बनाने पर उसने बंदूक वापस की थी।

यह भी पढ़ें- ऑनलाइन देह व्यापार के बड़े गैंग का खुलासा, इस तरह 5 से 20 हजार में होटल और कोठियों में भेजते थे लड़कियां

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned