धुर विरोधी रहे जयभान पवैया और ज्योतिरादित्य सिंधिया आए एक साथ, काफी देर तक चली मुलाकात

पूर्व मंत्री जयभान पवैया से मिलने के लिए उनके घर पहुंचे राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया..पवैया ने सिंधिया को भेंट की भगवत गीता..

By: Shailendra Sharma

Published: 11 Jun 2021, 06:58 PM IST

ग्वालियर. न सिर्फ ग्वालियर-चंबल अंचल की बल्कि पूरे प्रदेश की राजनीति में ज्योतिरादित्य सिंधिया और जयभान सिंह पवैया को एक दूसरे का धुर विरोधी माना जाता था। कई बार दोनों कई मुद्दों को लेकर आमने-सामने भी रहे और एक-दूसरे पर जमकर आरोप प्रत्यारोप किए लेकिन आज जो तस्वीर सामने आई वो इससे पहले कभी नहीं दिखी। बीजेपी में शामिल होने के करीब एक साल बाद ही सही इन दो दिग्गजों के बीच की दूरी उस समय कम होती दिखाई दी जब राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पूर्व मंत्री व महाराष्ट्र के सह प्रभारी जयभान सिंह पवैया से मिलने के लिए उनके ग्वालियर स्थित निवास पर पहुंचे। जहां दोनों के बीच काफी देर तक मुलाकात हुई।

देखें वीडियो-

राजनीति के धुर विरोधियों का मिलन
शुक्रवार को जब राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर में पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया के घर पहुंचे तो मानिए बीते कल की बातें हवा हो गईं। पूरी आत्मीयता के साथ जयभान सिंह पवैया ने सिंधिया का स्वागत किया। दोनों के बीच काफी देर तक वन-टू-वन बातचीत हुई। सिंधिया को बीजेपी में शामिल हुए एक साल से ज्यादा का वक्त गुजर चुका है इसके बाद वो कई बार ग्वालियर भी आए लेकिन ये पहली बार था जब वो जयभान सिंह पवैया से मुलाकात करने के लिए पहुंचे थे। बीते दिनों कोरोना के कारण जयभान सिंह पवैया के पिता का निधन हो गया था जिसे लेकर सिंधिया ने शोक संवेदनाएं व्यक्त कीं और दोनों के बीच और भी कई मु्द्दों पर बातचीत हुई। इस दौरान जयभान सिंह पवैया ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को भागवत गीता भी भेंट की।

ये भी पढ़ें- पत्रिका की खबर के बाद सांसद ने बढ़ाए मदद के हाथ, सांसद निधि से होगा खिलाड़ी का इलाज

scindhiya-pawaiya_02.jpg

अतीत को भुलाकर हम साथ-साथ हैं- सिंधिया
मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मैंने आपको पहले दिन से ही कहा था कि पवैया जी और हममें एक नया संबंध और नया रिश्ता कायम करने की कोशिश हमने की है। अतीत अतीत होता है और पवैया जी और मैं वर्तमान व भविष्य पर काम करते हैं। जो उनका साथ और उनका प्रेम मुझे मिला है मैं उसे अपना सौभाग्य समझता हूं। उन्हें बहुत अनुभव है उनका लंबा कार्यकाल रहा है, मुझे विश्वास है कि उसका लाभ मुझे मिलेगा। विश्वास है कि हम दोनों मिलकर ग्वालियर शहर और प्रदेश के विकास के लिए मिलकर काम करेंगे।

 

ये भी पढ़ें- फोटो खिंचवाने के लिए भिड़ गए कांग्रेसी, पूर्व मंत्री के सामने दिखा ऐसा नजारा, देखें VIDEO

 

एक कार्यकर्ता ने बांटा दूसरे कार्यकर्ता का दुख- पवैया
ज्योतिरादित्य सिंधिया से हुई मुलाकात के बाद पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया ने कहा कि सिंधिया जी हमारे परिवार के सदस्य हैं और दुख बांटने के लिए मेरे घर आए थे। ये कोई राजनैतिक मुलाकात नहीं थी बल्कि एक कार्यकर्ता की दूसरे कार्यकर्ता से मुलाकात थी जो कि उसका दुख बांटने के लिए आया था। हमारी आज की भेंट पारिवारिक और संवेदनाओं की दृष्टि से थी।

देखें वीडियो-

Jyotiraditya Scindia
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned