scriptFake brother of looteri dulhans arrested from Ujjain | लुटेरी दुल्हनों के बाद अब फर्जी भाई भी गिरफ्तार, ये है पूरा मामला | Patrika News

लुटेरी दुल्हनों के बाद अब फर्जी भाई भी गिरफ्तार, ये है पूरा मामला

सात फेरों की साजिश करने वाली लुटेरी दुल्हनों की गैंग का एक और सदस्य चढ़ा पुलिस के हत्थे...

ग्वालियर

Published: December 07, 2021 06:10:49 pm

ग्वालियर. लुटेरी दुल्हनों के बाद अब ग्वालियर पुलिस ने उनके फर्जी भाई को भी गिरफ्तार कर लिया है। लुटेरी दुल्हनों का फर्जी भाई उज्जैन से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस की गिरफ्त में आया फर्जी भाई ही गिरोह का मास्टरमाइंड है जो अच्छे घरों के लड़कों की तलाश करता था और फिर सुंदर अनाथ युवतियों से उनकी शादी कराता था। शादी होने के बाद लुटेरी दुल्हनें घर से नकदी और जेवारात लेकर फरार हो जाती थीं।

gwalior_loteri_dulhan.jpg

उज्जैन से गिरफ्तार हुआ फर्जी भाई
लुटेरी दुल्हनों की गिरफ्तारी के बाद से ही पुलिस लगातार गैंग के अन्य सदस्यों की तलाश में जुटी हुई थी। इसी कड़ी में उज्जैन से पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी का नाम संदीप शर्मा है जो लुटेरी दुल्हनों का फर्जी भाई है। संदीप गिरोह का मास्टर माइंड है जो कि बड़े घरों के कुंवारे लड़कों की तलाश करता था और पूरी वारदात की प्लानिंग करता था। बता दें कि ग्वालियर के रहने वाले एक कारोबारी ने दिसंबर 2020 में अपने दो सगे भाईयों की शादी दो सगी बहनों से की थी जो कि लुटेरी दुल्हनें थीं और शादी के बाद घर से लाखों के जेवरात और लाखों रुपए कैश लेकर गायब हो गई थीं। उस शादी में सुनील शर्मा लुटेरी दुल्हनों का फर्जी बना था और अपना नाम सुनील मित्तल बताया था। पुलिस गिरफ्त में आए आरोपी ने अपना जुर्म कबूल करते हुए इंदौर, उज्जैन औऱ ग्वालियर में वारदात को अंजाम देना कबूल किया है।

ये भी पढ़ें- 10वीं के छात्र के पेट से निकलीं 27 नुकीली कीलें, डॉक्टर्स भी हैरान

शादी के 3 महीने बाद लुटेरी दुल्हनें हो गई थीं फरार
बता दें कि ग्वालियर शहर के बिलौआ थाना क्षेत्र के रहने वाले कपड़ा व्यापारी नागेन्द्र जैन ने दिसंबर 2020 में अपने दोनों छोटे भाइयों दीपक और सुमित की शादी उज्जैन की रहने वाली नंदनी मित्तल व रिंकी मित्तल से कराई थी। शादी की बातचीत इंदौर के रहने वाले बाबूलाल जैन के जरिए शुरु हुई थी और नंदनी व रिंकी के भाई ने दोनों बहनों का रिश्ता तय किया था। शादी 15-20 दिन बाद भी रिंकी व नंदिनी अपने ससुराल से मायके चली गईं थी लेकिन 9 जनवरी को अपने भाइयों के साथ वापस लौटीं थीं। कुछ दिन पहले एक बार फिर दोनों अपने मायके चली गईं और कई बार बुलाने के बाद भी वापस नहीं लौटीं। रिंकी और नंदिनी के काफी दिनों तक वापस न लौटने पर घरवालों को शक हुआ तो उन्होंने घर की तलाशी ली। घर से 8 लाख रुपए के जेवरात व सात लाख रुपए नकद गायब थे।

ये भी पढ़ें- चौथी बेटी को जन्म देने के 5 घंटे बाद मां की मौत

फेसबुक ने खोला फरेबी दुल्हनों का राज
रिंकी और नंदिनी के घर से जेवरात और नकदी लेकर फरार होने के बाद जब परिवार वालों ने सोशल मीडिया फेसबुक पर पड़ताल की तो जो जानकारी मिली उसे जानकर परिवारवालों के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। फेसबुक से पता चला कि रिंकी और नंदिनी पहले से ही शादीशुदा हैं और नंदिनी का तो एक बच्चा भी है। दोनों की फेसबुक आईडी नंदनी प्रजापति और टीना यादव के नाम से है। इसी तरह रिंकी मित्तल की फेसबुक ID रिंकी प्रजापति के नाम से है भाई संदीप मित्तल की फेसबुक आईडी संदीप शर्मा व भाभी रीना मित्तल की आईडी रीना चंदेल तथा दूसरे भाई आकाश मित्तल की आईडी आकाश मराठा के नाम से है। पीड़ित व्यवासी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद पुलिस ने छापेमार कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मामले में अन्य आरोपियों पर गिरफ्तारी का दबाव पड़ने पर नंदनी और रिंकी ने डबरा कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था। जिन्हें पूछताछ के बाद न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया गया था।

देखें वीडियो- DSP साहब की सादगी भरी शादी, साइकिल से लेकर आए दुल्हनिया

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: आज इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का PM Modi करेंगे लोकार्पणCovid-19 Update: भारत में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्डUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारU19 World Cup: कौन है 19 साल का लड़का Raj Bawa? जिसने शिखर धवन को पछाड़ रचा इतिहासSubhash Chandra Bose Jayanti 2022: पढ़ें नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 10 जोशीले अनमोल विचारCG-महाराष्ट्र सीमा पर चेकिंग में लगे पुलिस जवानों से मारपीट, कोरोना जांच पूछा तो गाली देते हुए वाहन सवार टूट पड़े कांस्टेबल परसरकार का बड़ा फैसला, नई नीति में आमजन व किसानों को टोल टैक्स से छूटछत्तीसगढ़ में 24 घंटे में 11 कोरोना मरीजों की मौत, दुर्ग में सबसे ज्यादा 4 संक्रमितों की सांसें थमी, ज्यादातार वे जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगाया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.