scriptIf not Hindutva, not India, this comment on Pakistan and America | बोले मोहन भागवत— हिंदुत्व नहीं तो भारत नहीं, अमेरिका से संबंधों की वजह भी बताई | Patrika News

बोले मोहन भागवत— हिंदुत्व नहीं तो भारत नहीं, अमेरिका से संबंधों की वजह भी बताई

जीवाजी विश्वविद्यालय के अटल विहारी वाजपेयी सभागार में रखा गया सरसंघ चालक डॉ. मोहन भागवत का कार्यक्रम

ग्वालियर

Published: November 28, 2021 08:51:10 am

ग्वालियर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सर संघचालक डॉ. मोहन भागवत ने कहा है कि मातृभूमि के बिना हमारी कोई पहचान नहीं है. ग्वालियर में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि हिंदुत्व के बिना भारत नहीं और भारत के बिना हिंदुत्व नहीं। भारत को हिंदू रहना है, तो अखंडता और एकात्मता जरूरी है।

rss.jpg

उन्होंने पाकिस्तान बनने की वजह भी बताई. मोहन भागवत बोले- भारत क्यों टूटा, क्योंकि हिंदू अपने आप को भूल गए। मुसलमान खुद को भूल गए। मुसलमान कह सकते थे कि तुम अपने आप को हिंदू मत कहो, क्योंकि सारे वेद हमारी जमीन पर बने. जिससे तुम अपना हिंदू उच्चारण करते हो वह हिंदूकुश हमारे यहां है.

भागवत ने कहा कि अखंड भारत की कल्पना हमारी सत्यता और ध्येय से पूरी होती है। इतिहास गवाह है, जब-जब हिंदू के अंदर हिंदुत्व का भाव या ताकत कम हुई तो हिंदू की संख्या कम हुई। पाकिस्तान का नाम लिए बिना उन्होंने कहा— जो विरोध करता है, वह विरोधी है। उससे संबंध नहीं रखना है। विरोधी कोई गड़बड़ करता है, तो उसे समाप्त कर देना चाहिए। इस बयान पर लोगों ने खूब तालियां बजाईं।

rss2.jpgRSS प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि हम पश्चिमी देशों की तरह नहीं हैं जो अपने हितों और स्वार्थ के लिए संबंध रखते हैं। भारत ही एक मात्र ऐसा देश है, जिसके संस्कार सत्य और संबंध से बने हैं। यह जोड़ता है, तोड़ता नहीं। ग्लोबल मीट में अमेरिका का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा जब तक अमेरिका को आपसे नुकसान नहीं है तभी तक यह संबंध है. यदि नुकसान होगा, तो वह संबंध तोड़ने में जरा भी नहीं सोचेगा।
शनिवार को सरसंघ चालक डॉ. मोहन भागवत का यह कार्यक्रम जीवाजी विश्वविद्यालय के अटल विहारी वाजपेयी सभागार में रखा गया था। इसमें बतौर मुख्य अतिथि CM शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए। इससे पहले मोहन भागवत को प्रतिमा भेंट कर शॉल श्रीफल से सम्मान किया गया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भी सम्मान किया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी विचार व्यक्त किए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददसंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमRepublic Day 2022 parade guidelines: बिना टीकाकरण और 15 साल से छोटे बच्चों को परेड में नहीं मिलेगी इजाजतदेश में कोरोना के बीते 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा नए मामले, जानिए कुल एक्टिव मरीजों की संख्याCTET Answer Key 2021-22: सीबीएसई ने जारी किया सीटीईटी आंसर की, ऐसे करें डाउनलोडसुप्रीम कोर्ट के वकीलों को मिला रिकॉर्डेड कॉल, दिल्ली में कश्मीर का झंडा फहराने की धमकीसेल्स एंड टाइल्स व्यापारी के घर GST का छापा, सुबह-सुबह पहुंची टीम, घर, गोदाम और दुकान में खंगाले दस्तावेज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.