scriptMP Weather: आ गई सटीक जानकारी…..जून की इस तारीख से होगी मानसूनी बारिश | MP Weather: Monsoon rain will occur after June 17 | Patrika News
ग्वालियर

MP Weather: आ गई सटीक जानकारी…..जून की इस तारीख से होगी मानसूनी बारिश

MP Weather: मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में मानसून सुस्त पड़ा है। न चक्रवातीय घेरे बन रहे हैं और न कम दबाव का क्षेत्र। मानसून की पूर्वी शाखा 31 मई के बाद से आगे नहीं बढ़ी है।

ग्वालियरJun 12, 2024 / 03:23 pm

Ashtha Awasthi

Mp weather update today live

Mp weather update today live

MP Weather: दक्षिण पश्चिम मानसून दक्षिण भारत सहित आधे महाराष्ट्र में सक्रिय हो गया है। दक्षिण शाखा के आगे बढऩे से मालवा क्षेत्र में प्री मानसून की बारिश शुरू हो गई है, लेकिन जून के 11 दिन बीतने के बाद भी शहर में प्री मानसून की बारिश नहीं हुई है। इस कारण जून में औसत से कम बारिश होने के आसार बन गए हैं।
प्री मानसून की बारिश नहीं होने से शहर को भीषण गर्मी का सामना करना होगा। 12 से 15 जून के बीच हीटवेव (लू) चलने के आसार हैं। पारा 44 से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज हो सकता है। मौसम विभाग ने 17 जून के बाद प्री मानसून की बारिश के आसार जताए हैं।
ये भी पढ़ें: 48 घंटे अहम… एंट्री लेने जा रहा प्री-मानसून, 36 जिलों में धुंआधार बारिश अलर्ट

देश में मानसून की दस्तक होने पर प्री मानसून की हलचल शुरू हो जाती हैं। दूसरे से तीसरे सप्ताह में इन हलचलों में तेजी आती है, लेकिन इस बार वैसी स्थिति नहीं बन रही है। जून भीषण गर्मी से तप रहा है। बादल भी छा रहे हैं, लेकिन नमी कम होने की वजह से बादल बरस नहीं पा रहे हैं। इसके अलावा आंधी आने पर भी बारिश नहीं हो रही है। इस वजह से जून में औसत बारिश का कोटा कम रह सकता है। जून में औसत बारिश 85.1 मिली मीटर होती है, लेकिन 12 दिन में एक भी दिन बारिश दर्ज नहीं हुई है।

पारा फिर उछला

-राजस्थान की गर्म हवा आने की वजह से आसमान साफ हो गया। इस वजह से तापमान में 4.6 डिग्री का उछाल आया। इससे दिन में गर्मी बढ़ गई। दोपहर में गर्म हवा के थपेड़ों ने लोगों को बेहाल कर दिया अधिकतम तापमान सामान्य से 1.3 व न्यूनतम 1.9 डिग्री कम रहा।
-सूर्य अस्त के बाद भी गर्म हवा चली, अब रात के तापमान में भी उछाल के आसार हैं।

-बंगाल की खाड़ी में मानसून सुस्त पड़ा है। न चक्रवातीय घेरे बन रहे हैं और न कम दबाव का क्षेत्र। मानसून की पूर्वी शाखा 31 मई के बाद से आगे नहीं बढ़ी है।
-जबकि पूर्वी शाखा के आगे बढऩे पर मानसून ग्वालियर चंबल संभाग पहुंचता है।

-22 जून के बाद बंगाल की खाड़ी में सिस्टम बन सकता है, जिसके चलते पूर्वी शाखा आगे बढ़ सकती है। इससे मानसून आगे बढ़ेगा।

पारे की चाल

समय तापमान

05:30 33.4

08:30 33.8

11:30 38.6

14:30 42.0

17:30 41.6

अधिकतम तापमान-42.8 डिसे
न्यूनतम तापमान- 31.3 डिसे

Hindi News/ Gwalior / MP Weather: आ गई सटीक जानकारी…..जून की इस तारीख से होगी मानसूनी बारिश

ट्रेंडिंग वीडियो