चार दिन में चार महिलाओं की संदिग्ध मौत, शोक सभा से लौटने के बाद बिगड़ी थी सभी की तबीयत

कस्बे के श्रीगौशाला के पीछे स्थित वार्ड नंबर 27 में पिछले चार दिनों में लगातार चार महिलाओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। मृतक महिलाओं में दो सगी बहनें भी शामिल हैं।

By: kamlesh

Published: 19 Sep 2020, 06:40 PM IST

हनुमानगढ़/नोहर। कस्बे के श्रीगौशाला के पीछे स्थित वार्ड नंबर 27 में पिछले चार दिनों में लगातार चार महिलाओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। मृतक महिलाओं में दो सगी बहनें भी शामिल हैं। इस क्षेत्र में संदिग्ध रूप से सिलसिलेवार हो रही मौतों से वार्ड में भय का माहौल है।

बताया जाता है कि चारों महिलाओं की मौत के लक्षण श्वांस संबंधी दिक्कतों के चलते होना पाया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बे की श्रीगौशाला के पीछे स्थित वार्ड नंबर 27 में एक ही परिवार के कुछ लोग पखवाड़ा भर पहले चूरू जिले के सादुलपुर कस्बे में एक शोक सभा में शामिल होने गए थे। सामुहिक शोक सभा में बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सादुलपुर से लौटने के बाद वहां गई 75 वर्षीय एक महिला की तबीयत बिगड़ गई और उसकी बुधवार को मौत हो गई। उसके दो दिन बाद शुक्रवार को इसी शोक सभा में शामिल हुईं दो सगी बहनों जिनकी उम्र करीब 75 व 78 वर्ष थी। उनकी भी मौत हो गई। शनिवार अल सुबह तबीयत बिगडऩे से इस शोक सभा से लौटने वाली 75 वर्षीय चौथी महिला की मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार संदिग्ध रूप से वार्ड में चार महिलाओं की मौत के बाद भी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने वार्ड में किसी प्रकार का सर्वे नहीं करवाया है। यद्यपि इन महिलाओं की कोरोना जांच नहीं हो पाई थी। परंतु सावचेती उपायों के चलते वार्ड में सर्वे की नितांत आवश्यकता है।

सूत्रों ने बताया कि सादुलपुर में जिस स्थान पर शोक सभा आयोजित की गई थी। उस क्षेत्र में कई कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की पहचान हुई है। मौहल्ले के लोगों ने चिकित्सा विभाग से संबंधित परिवारों की कोरोना जांच की आवश्यकता जताई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned