लॉकडाउन के बाद भी कोविड-19 का खतरा, लापरवाही से बढ़ेगी परेशानी

पत्रिका 'लाइफलाइन' की ओर से पाठकों और दर्शकों के लिए फेसबुक लाइव शो किया गया। विषय था- कोविड19 के दौरान अपनी सेहत का ध्यान कैसे रखें।

By: Hemant Pandey

Published: 24 May 2020, 08:45 PM IST

पत्रिका 'लाइफलाइन' की ओर से पाठकों और दर्शकों के लिए फेसबुक लाइव शो किया गया। विषय था- कोविड19 के दौरान अपनी सेहत का ध्यान कैसे रखें। इस साप्ताहिक फेसबुक लाइव में दर्शकों ने सेहत से जुड़े अनेक सवाल किए जिनके जवाब शो में एक्सपर्ट पैनल के रूप में शामिल तीन डॉक्टर्स ने दिए। उनमें से कुछ चुनिंदा सवालों के जवाब-
सवाल: जिन्हें दूसरी बीमारियां हैं। उन्हें डॉक्टर्स को दिखाने जाते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?
जवाब: लॉकडाउन में रियायतों का अर्थ यह नहीं है कि हम कोविड-19 के बुरे दौर से बाहर आ गए हैं। इसका खतरा बरकरार है। बहुत जरूरी है तो ही डॉक्टर के पास जाएं,नहीं तो फोन या टेलीमेडिसिन से परामर्श लें। जाना पड़े तो डॉक्टर से समय लेकर जाएं ताकि कम एक्सपोजर हो। हॉस्पिटल्स में कोविड-19 का खतरा सबसे ज्यादा है।
सवाल: अभीकोरोना से बचने के लिए क्या करें?
जवाब: बाहर जाने से बचें। जहां तक संभव हो घर का खाना खाएं। लॉकडाउन खुल गया है लेकिन बाहर के खाने की डिलीवरी न लें। वजन नियंत्रित रखें। जिनका वजन ज्यादा है उनमें भी इस बीमारी की आशंका अधिक है। नियमित व्यायाम करें। विटामिन सी-डी और जिंक ज्यादा मात्रा में लें। नाक-मुंह बार-बार न छुएं। बाहर जाएं तो मास्क लगाएं।
सवाल: कुछ कार्यालय खुल गए हैं। ऐसे में किन बातों का ध्यान रखा जाए?
जवाब: कोरोना से बचाव के लिए अभी तक जो करते आ रहे हैं। उन सबके साथ पब्लिक ट्रांसपोर्ट से बचें। दफ्तर में दूसरों से एक मीटर की दूरी होनी चाहिए। हर आधे घंटे पर हाथ साफ करें। नाक न छुएं। रेलिंग, दरवाजे, लिफ्ट बटन, पैसे बार-बार छूने से बचें। लिफ्ट में दो से ज्यादा लोग न हो। बाइक की सीट सैनेटाइज करने के बाद ही बैठें। कार का हैंडल भी सैनेटाइज करें। ऑफिस के फोन को हैंडसेट मोड पर इस्तेमाल करें।
सवाल: यदि किसी को एक बार कोरोना हो गया है तो क्या उसे दोबारा नहीं होगा?
जवाब: यह बीमारी बिल्कुल नई है। फिर भी अभी तक ऐसे मरीज नहीं देखने में आए हैं जिन्हें एक बार कोरोना हो गया था और दोबारा भी हुआ। यह वायरस शरीर में 90 दिनों तक देखा गया है। लेकिन अभी तक यह पता नहीं चल पा रहा है कि यह वायरस मृत है या जिंदा। जांच में वह दोबारा भी पॉजेटिव ही मिलेगा लेकिन वह संक्रमित नहीं है। उससे दूसरों को नहीं होगा। लेकिन जिन्हें हो चुका है उन्हें भी सारी सावधानी बरतनी होगी।
सवाल: मेरी उम्र 65 वर्ष है। क्या लॉकडाउन के बाद बाहर जा सकता हूं?
जवाब: संक्रमण का खतरा 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को अधिक है। लॉकडाउन के बाद भी बाहर जाने से बचें। अगर घर का कोई सदस्य बाहर जाता है तो उससे भी दूरी बनाकर रखें। फेफड़ों के रोगियों को विशेष सावधानी बरतनी होगी। जो भी दवाइयां लेते हैं उसको नियमित लें। कोई समस्या हो तो तत्काल डॉक्टर की सलाह लें। दिनचर्या सही रखें।
सवाल: यदि कोविड पॉजिटिव पास से गुजरता है तो क्या संक्रमण हो सकता है?
जवाब: अगर सडक़ पर जा रहे हैं और पास से कोविड पॉजिटिव गुजर गया तो इससे आपको संक्रमण नहीं होगा। यह 10-15 मिनट तक मरीज के संपर्क के आने क बाद ही होता है। हां ट्रेन, गाड़ी में टे्रवल करने या एक कमरे में रहने से संक्रमण होता है।

Hemant Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned