विरुद्ध आहार से भी सफेद दाग, कब्ज से इसमें बढ़ती है परेशानी

आयुर्वेद के अनुसार सफेद दाग होने की कई वजह होती हैं। इनमें विरुद्ध आहार भी एक कारण है। इसमें दो विपरीत प्रकृति (तासीर) वाली चीजों को एकसाथ लेने से परेशानी होती है।

By: Hemant Pandey

Updated: 24 May 2020, 06:15 PM IST

आयुर्वेद के अनुसार सफेद दाग होने की कई वजह होती हैं। इनमें विरुद्ध आहार भी एक कारण है। इसमें दो विपरीत प्रकृति (तासीर) वाली चीजों को एकसाथ लेने से परेशानी होती है। जैसे मीठे के साथ नमकीन या तीखा, दूध या दूसरे डेयरी प्रोडक्ट्स के साथ खट्टी चीजें, दूध के साथ मूली, ठंडे के साथ गर्म आदि हैं। इससे शरीर में वात, पित्त और कफ तीनों बढ़ते हैं। बीमारियों के पीछे ये तीन ही मुख्य कारण होते हैं। साथ ही पेट में कब्ज की समस्या नहीं होनी चाहिए। कब्ज रहने से इलाज के बावजूद सफेद दाग में आराम नहीं मिलता है।
ये हैं विरुद्ध आहार
र्म फास्ट व जंक फूड के साथ ठंडा मीठा पेय, चाय-कॉफी, चाय-कॉफी के साथ खटाई वाली चीजें, दूध के साथ मांस-मछली, खट्टी चीजें जैसे नींबू, टमाटर, कच्चा आम, कढ़ी, रायता, अण्डे, उड़द, राजमा, कटहल आदि खाने से बचना चाहिए। सफेद दाग में सकारात्मक मानसिकता रखने से भी लाभ मिलता है।
डॉ. मुकेश कुमार कटारा, वरिष्ठ आयुर्वेद विशेषज्ञ, उदयपुर

Hemant Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned