scriptConsume liquorice to keep yourself healthy | Benefits of Liquorice: खुद को स्वस्थ रखने के लिए करें मुलेठी का सेवन | Patrika News

Benefits of Liquorice: खुद को स्वस्थ रखने के लिए करें मुलेठी का सेवन

Benefits of Liquorice: मुलेठी का इस्तेमाल सदियों से होता चला आ रहा है। मुलेठी का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। यह एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक, प्रोटीन, वसा, कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड के गुणों से भरपूर होती है। मुलेठी कान और नाक के रोग में भी लाभकारी है। इस जड़ी बूटी का स्वाद चीनी की तुलना में ज्यादा मीठा होता है।

नई दिल्ली

Updated: November 26, 2021 04:30:16 pm

नई दिल्ली। Benefits of Liquorice: मुलेठी के सेवन करने से आपके स्वास्थ्य को बहुत सारे लाभ मिलते हैं। मुलेठी का इस्तेमाल सदियों से होता चला आ रहा है। यह बीमारियों से बचाने में आपकी मदद करते हैं। इसका स्वाद मीठा होता है। मुलेठी में कैल्शियम, ग्लीसिर्रहिजिक एसिड, एंटी ऑक्सिडेंट, एंटीबायोटिक और प्रोटीन के तत्व पाए जाते हैं। जो स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता हैं। यह दांतों, मसूड़ों और गले के लिए बहुत फायदेमंद है। मुलेठी के प्रयोग से खून साफ होता है, बाल बढ़ते हैं और बुद्धि तेज होती है। मुलेठी का इस्तेमाल घाव के उपचार, दमा, आंखें, मुंह, और गले के रोगों के उपचार के लिए सदियों से किया जा रहा है। आइए जानते हैं मुलेठी के फायदे के बारे में।
Benefits of Liquorice: खुद को स्वस्थ रखने के लिए करें मुलेठी का सेवन
Consume liquorice to keep yourself healthy
यह भी पढ़े: अपने आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये घरेलू और प्राकृतिक उपाय

मुलेठी के फायदे

माइग्रेन दर्द के लिए फायदेमंद :

माइग्रेन के दर्द से परेशान रहते हैं तो आपको मुलेठी का उपयोग करना चाहिए। मुलेठी चूर्ण या मुलेठी पाउडर में शहद मिलाकर इसे नेजल ड्राप की तरह नाक में डालें। इससे माइग्रेन के दर्द से आराम मिलता है।
अर्थराइटिस के लिए फायदेमंद :

अगर आपको अर्थराइटिस की समस्या है तो ऐसे में आप मुलेठी का सेवन कर सकते हैं। दरअसल मुलेठी में एंटी ऑक्सिडेंट और एंटीबायोटिक के गुण पाए जाते हैं जो अर्थराइटिस, दर्द सूजन को कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं। अर्थराइटिस के मरीजों को मुलेठी की चाय का सेवन करना काफी फायदेमंद माना जाता है।
कान और नाक की बीमारियों के लिए फायदेमंद :

मुलेठी कान और नाक के रोग में भी लाभकारी है। मुलेठी और मुनक्का से पकाए हुए दूध को कान में डालने से कान की बीमारियों में लाभ होता है। 3-3 ग्राम मुलेठी और शुंडी में छह छोटी इलायची, 25 ग्राम मिश्री मिलाकर, काढ़ा बनाकर 1-2 बूंद नाक में डालने से नाक के रोगों में आराम मिलता है।
यह भी पढ़े: गलसुआ से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

पाचन के लिए फायदेमंद :

मुलेठी का जड़ कब्ज, अम्लता, सीने में जलन, पेट के अल्सर, पेट के अस्तर की सूजन जैसी पाचन समस्याओं के इलाज में सहायक है। इसका हल्का रेचक प्रभाव मल त्याग को विनियमित करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके सूजन को कम करने और और जीवाणुरोधी गुण भी पेट में सूजन को कम करने और संक्रमण से पेट की अंदरूनी परत को बचाने में मदद करते हैं।
पीरियड्स के लिए फायदेमंद :

अनियमित पीरियड्स की समस्या या पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए आप मुलेठी का इस्तेमाल कर सकते हैं। मासिक धर्म के दौरान होने वाले अधिक रक्तस्त्राव में आप 2 चम्मच मुलेठी का चूर्ण, 4 ग्राम मिश्री पानी में मिला लें। इसका सेवन करने से आपके पीरियड्स में होने वाले दर्द और अधिक रक्तत्राव से राहत मिलेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.