जीरा, सौंफ और अजवायन की गोलियां करती हैं कीड़ों से बचाव

बच्चों के पेट में कीड़े होने से पाचन संबंधी परेशानी हो सकती है। भूख न लगना, जी मिचलाना, उल्टी आदि लक्षण दिखते हैं। कीड़ों से बचाव में घरेलू उपाय भी कारगर हैं।

By: Hemant Pandey

Updated: 12 Aug 2020, 02:37 PM IST

बच्चों के पेट में कीड़े होने से पाचन संबंधी परेशानी हो सकती है। भूख न लगना, जी मिचलाना, उल्टी आदि लक्षण दिखते हैं। कीड़ों से बचाव में घरेलू उपाय भी कारगर हैं।
एक-एक हिस्सा जीरा-सौंफ और आधा हिस्सा अजवायन को हींग के साथ ïïïघी में भून लें और गुड़ के साथ गोलियां बना लें। बच्चा छोटा है तो 2-3 गोलियां और बड़ा है तो 5-6 गोलियां सुबह-शाम को दें।
अमलताश के फल का गुदा निकालकर दूध के साथ उबाल लें। इसे कुछ दिनों तक रोज दें।
अमलताश के फल को सुखाकर सेंधा नमक-गुड़ के साथ गोलियां बनाकर दें।
रात को सोने से पहले 10 ग्राम कलौजी को पीसकर 3 चम्मच शहद के साथ देने से भी फायदा होता है।
-50मिली. मूली और गाजर के रस को कालीमिर्च के चूर्ण के साथ मिलाकर देने से फायदा होता है। इसको गुड़ के साथ देने चाहिए। इसे सुबह-शाम 3-4 दिनों तक पिलाने से राहत मिलती है।
डॉ. राकेश नागर, आयुर्वेद विशेषज्ञ

Hemant Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned