मानूसन : उमस से बढ़ते हैं फ्लू के वायरस, विशेष सावधानी बरतें

बरसात के मौसम में गर्मी और उमस के कारण वायरस का प्रकोप बढ़ जाता है।

By: Hemant Pandey

Published: 17 Jul 2020, 03:03 PM IST

बरसात के मौसम में गर्मी और उमस के कारण वायरस का प्रकोप बढ़ जाता है। साथ ही अचानक गर्मी और फिर बारिश के बाद ठंडक होने से वायरल डिजीज जैसे सर्दी-खांसी, जुकाम और बुखार की आशंका भी रहती है। कोरोना भी एक प्रकार का वायरस है। चंूकि कोरोना वायरस के लिए पहली बरसात है ऐसे में यह नहीं कहा जा सकता है कि कोरोना का प्रकोप बढ़ेगा या घटेगा। लेकिन जिस तरह से दूसरे वायरस नमी से बढ़ते हैं ऐसे में अनुमान लगाया जा सकता है कि इसका भी प्रकोप बढ़ सकता है। विशेष सावधानी बरतें।
हवा मेें कोरोना फैल सकता
विश्व स्वास्थ संगठन ने माना है कि बंद कमरों यानी इंडोर एरिया जैसे रेस्टोरेंट, फिटनेस सेंटर, समूह गायन वाले स्थान या क्लासेज में कोरोना का वायरस हवा में काफी समय तक रह सकते हंै। इंडोर स्थानों में संक्रमित व्यक्ति के साथ लंबे समय तक रहने से कोरोना का संक्रमण हो सकता है।

Hemant Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned