scriptnever ignore eye twitching it can be a symptom of serious disease | Eye Twitching: आंखें फड़कना हो सकता है कई सारे गंभीर समस्याओं का संकेत, हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां | Patrika News

Eye Twitching: आंखें फड़कना हो सकता है कई सारे गंभीर समस्याओं का संकेत, हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां

Eye Twitching: आँख फड़कना बहुत ही ज्यादा कॉमन होता है लेकिन इसके होने से बहुत सारी दिक्क्तें हो सकती हैं, इसलिए जानिए आँख फड़कने सेहत के लिए हानिकारक कैसे हो सकते हैं।

 

नई दिल्ली

Updated: May 18, 2022 06:39:29 pm

Eye Twitching: आँख शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, आँख फड़कने से स्वास्थ्य को कई सारी दिक्कतें हो सकती हैं, शरीर में दर्द और ऐंठन की वजह से आँख लगातार फड़कती रहती है, इसलिए यदि कुछ दिनों से आपको भी ऐसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो आप सतर्क हो जाना चाहिए, ताकि आँख से जुड़ी कई समस्याएं दूर हो जाएँ।
आंखें फड़कना हो सकता है कई सारे गंभीर समस्याओं का संकेत, हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां
never ignore eye twitching it can be a symptom of serious disease
 
ब्लेफेरोस्पाजम और हेमीफेसियल स्पाजम
इनके होने पर आंखों में बहुत ही ज्यादा ऐंठन की समस्या बनी रहती है, इसमें ऐंठन इतनी ज्यादा तेज होती है कि इंसान कि आँख बंद तक नहीं होती है, लगाकर फड़कती रहती है, इनके होने पर व्यक्ति चाह कर भी आँखें फड़कने कि समस्या को कंट्रोल नहीं कर सकता है। यदि शुरुआत के ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं तो आपको तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए।
 
मायोकेमिया
मायोकेमिया की बात करें तो ये मांसपेशियों की सामान्य सिकुड़न के कारण होता है, इसके होने पर सबसे ज्यादा आँख की नीचे वाली पलक के ऊपर सबसे ज्यादा बुरा प्रभाव पड़ता है, इसे लाइफस्टाइल में बदलाव को ठीक करके सही किया जा सकता है।
 
जरूरत से ज्यादा स्ट्रेस लेने पर भी फड़क सकती हैं आँखें
यदि आप जरूरत से ज्यादा स्ट्रेस में रहते हैं तो भी आपकी आँखें फड़क सकती हैं, यदि आपकी आँखें लगातार फड़कती हैं तो आपको टेंशन फ्री लाइफस्टाइल व्यतीत करने कि बेहद आवश्य्कता होती है।

यह भी पढ़ें: एक्सरसाइज के बाद सिर्फ इतना पानी पीना ही होता है सही, जानें
 
नींद की कमी के कारण
यदि आपकी नींद पूरी नहीं होती है तो ये आँख फड़कने का एक सबसे बड़ा कारण हो सकता है, सेहतमंद इंसान के लिए कम से कम 7-8 घंटे की नींद की पूर्ती की आवश्य्कता होती है, इसलिए कम से कम सात से आठ घंटे व्यक्ति को जरूर सोना चाहिए।

यह भी पढ़ें: जानिए किशोरों में हाइपरटेंशन के कौन-कौन से कारण हो सकते हैं और आयुर्वेद के अनुसार क्या है इससे बचाव के उपाय
 

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Assembly Speaker Election: महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का चुनाव आज, भाजपा और महा विकास अघाड़ी के बीच सीधी टक्करमस्क-बेजोस सहित कई अरबपतियों की दौलत में भारी गिरावट, जुकरबर्ग की संपत्ति हुई आधीबिहार में पैसेंजर ट्रेन के इंजन में लगी आग, रक्सौल से नरकटियागंज जा रही थी रेलगाड़ीराहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़ा, जयपुर में रिपोर्ट दर्जMumbai News Live Updates: संजय राउत का तंज, शतरंज में वजीर और जिंदगी में जमीर मर जाए तो समझो खेल खत्मMaharashtra Politics: सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम फडणवीस को गर्वनर भगत सिंह कोश्यारी ने खिलाई मिठाई, तो चढ़ गया सियासी पारा!विदेश में छूट्टी मना रहे Kapil Sharma पर आई 7 साल पुरानी मुसीबत, इस चक्कर में कॉमेडियन के खिलाफ हुआ केस दर्जChar Dham Yatra 2022: चार धामा यात्रा को लेकर आई बड़ी खबर, केदारनाथ धाम गर्भगृह के दर्शन पर लगा प्रतिबंध हटा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.