अमरीकी अखबार ने मधुबाला की तुलना मर्लिन मुनरो से की

By: Mahendra Yadav
| Published: 09 Mar 2018, 05:09 PM IST
अमरीकी अखबार ने मधुबाला की तुलना मर्लिन मुनरो से की
Madhubala

अखबार ने पुराने समय की उन 15 महिलाओं को श्रद्धांजलि दी है, जिनका काफी अहम योगदान रहा है

अमरीका के एक अखबार ने बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री मधुबाला को याद किया है। दरअसल अखबार ने पुराने समय की उन 15 महिलाओं को श्रद्धांजलि दी है, जिनका काफी अहम योगदान रहा है। इस सेगमेंट को अखबार ने 'ओवरलुक्ड' नाम दिया है। इस सेगमेंट में उन्होंने इन 15 महिलाओं के बारे में लिखा है। इसी सेगमेंट में अखबार ने मधुबाला को श्रद्धांजलि देते हुए काफी प्रशंसा की है। इसमें मधुबाला को ट्रैजिक स्क्रीन आईकन मर्लिन मुनरो से तुलना की है।

16 की उम्र में बतौर लीड एक्ट्रेस आई मधुबाला:
मधुबाला ने बतौर लीड एक्ट्रेस 16 साल की उम्र में 1949 में आई फिल्म 'महल' में काम किया था। इस फिल्म में उनके साथ अभिनेता अशोक कुमार थे। इस फिल्म के लिए अखबार ने लिखा कि मधुबाला ने ऐसी आधुनिक औरतों का किरदार निभाया, जो लीक से हटकर रही।

दुनियाभर में बजता था मधुबाला की खूबसूरती का डंका:
मधुबाला बहुत खूबसूरत अभिनेत्री थी। उनकी खूबसूरती के चर्चे सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में थे। मधुबाला का नाम आते ही जहन में एक हसीन चेहरा घूम जाता है। उन्होंने इंडस्ट्री को कई हिट फिल्में दी जैसे चलती का नाम गाड़ी, मुगल-ए-आजम, महल और हाफ टिकट।

मधुबाला को मिला द बिगेस्ट स्टार इन द वर्ल्ड का खिताब:
मधुबाला को थिएटर्स आर्ट्स नाम की एक अमरीकी मैग्जीन ने 'द बिगेस्ट स्टार इन द वर्ल्ड' का खिताब दिया था। बता दें कि अपनी मुस्कान से करोड़ों लोगों का दिल जीतने वाली मधुबाला 36 साल की उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह गई थी।

पिता का दखल रहा ज्यादा:
मधुबाला की जिंदगी में उनके पिता का बहुत ज्यादा दखल रहता था। उनकी लव लाइफ से लेकर प्रोफेशनल लाइफ तक में उनका बहुत हस्तक्षेप था।

जब मधुबाला की फिल्म 'महल' रिलीज हुई थी, इसके ठीक 20 साल बाद उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। बेपनाह खूबसूरती की मल्लिका और अपने अंदर अथाह दर्द समेटने वाली मधुबाला का जीवन किसी फिल्म से कम नहीं था, जिसमें सबकुछ था- शानदार करियर, असफल प्रेम कहानी और आखिरकार गंभीर बीमारी से मौत।