Aaj Ka Ank Jyotish: अंक 4 वाले जातक आज तरक्की करेंगे, मनचाही इच्छा पूरी होगी


Aaj Ka Ank Jyotish: अंकज्योतिष के अनुसार जानें कैसा रहेगा आपका आज का दिन

By: Tanvi

Published: 05 May 2020, 06:30 AM IST

ज्योतिषाचार्य गुलशन अग्रवाल

अंक 01- कठिन प्रतिस्पर्धा के दौर में युवाओं को भाग्य भरोसे बैठने के बजाए कर्म पर ध्यान देना होगा। शेयर बाजार में पहले से दिख रही हानि लाभ में परिवर्तित होती दिखाई देगी।
अनुकूलता के लिए- दिये गए दान को गोपनीय रखें।

अंक 02- वर्तमान समय में दैनिक पूजन कर्म में ईश्वर की पूर्ण भक्ति का अहसास होगा व शीघ्र फल प्राप्त होने लगेंगे। व्यापार के किया गया बेतरतीब फैलावड़ा तकलीफ दे सकता है।
अनुकूलता के लिए- कनेर का पुष्प अपने पास में रखें।

अंक 03- मौसम के परिवर्तन के कारण चल रही सेहत से जुड़ी खराबी धीरे-धीरे ठीक होने लगेगी। बाजारों में तेजी का रूख भी बिगड़ी हुई आर्थिक स्थिति संभालने में नाकाम रहेगा।
अनुकूलता के लिए- हनुमान मंदिर में बढ़ते क्रम में दीपक लगाएं।

अंक 04- आकस्मिक धर्नाजन की स्थिति अपने अंर्तमुखी स्वभाव के कारण अपने हाथों से छुट सकती है। आज के दिन गैर जरूरी मदों में खर्च पूरे महीने का बजट गढ़बढ़ा देगा।
अनुकूलता के लिए- श्रीकृष्ण मंदिर में बांसुरी अर्पित करें।

अंक 05- अचानक नये लोगों से जुड़ने के कारण बहुत दिनों से रूके हुए पैसों में निरंतर प्रवाह बनने लगेगा। पिता की शिक्षा का प्रभाव जीवन के मोड़ पर अब जाकर महसुस होगा।
अनुकूलता के लिए- तुलसीदाल का सेवन कर कार्य शुरू करें।

अंक 06- ऋतु परिवर्तन को देखते हुए खाने-पिने में सावधानी बरतते हुए चपेट में आने से बचें। मुकदमेबाजी में निर्णय में देर होने से बढ़ती देनदारी पुरे समय परेशान कर सकती है।
अनुकूलता के लिए- दोपहर पश्चात श्वेत पदार्थो के सेवन से बचें।

अंक 07- मित्रों के साथ व्यवहारिकता निभाने में कोताही न बरतें। आज का दिन यांत्रिक कार्य करने वालों के लिए लाभदायी रहेगा। वरिष्ठजनों की नसीहत का पालन करना हित में रहेगा।
अनुकूलता के लिए- प्रातःकाल शिव-पार्वती के दर्शन करें।

अंक 08- निर्धारित लक्ष्य को समय पर पुरा न कर पाने की स्थिति में अधिकारियों के साथ-साथ सहकर्मियों का भी दबाव बढ़ता जाएगा। निजी संबंधों में एकरूपता बनाए रखें।
अनुकूलता के लिए- जीवमात्र को परेशान करने से बचें।

अंक 09- नौकरीपैशा व्यक्तियों को कार्य में मन न लगने की स्थिति मे सहज रहना ठीक रहेगा। वाणी संयम न रख पाने के कारण इज्जत बचाने में भक्ति भाव वाली छवी भी बेअसर रहेगी।
अनुकूलता के लिए- प्रकृति का विशेश ख्याल रखें।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned