कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेते ही बुजुर्ग का शरीर बना मैग्नेट, चिपकने लगा मेटल

नासिक में रहने वाले 71 वर्षीय अरविंद जगन्नाथ सोनार का दावा है कि दो जून को वैक्सीन लगवाने के बाद से उनका शरीर चुंबक की तरह काम करने लगा।

By: Mohit Saxena

Published: 11 Jun 2021, 11:56 AM IST

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के नासिक में कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने के बाद एक शख्स ने हैरान करने वाला दावा किया है। इसका कहना है कि वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद उसके शरीर में चुंबकीय शक्तियां आ गई हैं। शरीर से मेटल चिपक रहा है। उनका शरीर एक मैगनेट की तरह काम कर रहा है।

Read More: एक झटके में आपको लखपति बना देगा बेकार पड़ा 50 पैसे का सिक्का, जानिए कैसे

नासिक में शिवाजी चौक के पास रहने वाले 71 वर्षीय अरविंद जगन्नाथ सोनार ने 2 जून को कोवीशील्ड की दूसरी डोज लगवाई थी। उन्होंने दावा किया कि इसके बाद से ही उनके शरीर में परिवर्तन देखने को मिला। उनके शरीर में मैग्नेटिक पावर आ गई। पहले परिवार को लगा कि शायद पसीने के कारण उनकी बॉडी में यह सब चीजे चिपक रही हैं। मगर कई बार ऐसा होने पर उन्हें संदेह हुआ।

मेडिकल कारण या कुछ और

यह मामला सामने आने के बाद से राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने गुरुवार को कहा कि इस मामले में क्या सच्चाई है, उसकी जानकारी सभी को होनी चाहिए। जल्द की इस बात का रहस्य सबके सामने आ जाएगा कि इसके पीछे कोई मेडिकल कारण है या अन्य किसी रिएक्शन से हुआ है।

उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। इधर सोनार के बेटे ने दावा किया कि उन्होंने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो में इस तरह का एक और शख्स भी देखा है। वह भी कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज के बाद किसी मैग्नेट मैन की तरह हो गया। हालांकि मामला कितना सही है, इसके बारे में नहीं कहा जा सकता। फिलहाल अभी जांच जारी है।

Read More: सरकार ने सुनी नन्हीं बिटिया की मासूम फरियाद, कम किया ऑनलाइन क्लास का वक्तः वीडियो

डॉक्टर बोले ये रिसर्च का मुद्दा

इस बात को सच साबित करने के लिए एक वीडियों भी बनाया गया है। इसे सोशल मीडिया पर अपलोड़ किया गया है। वीडियो में साफ दिखाई पड़ रहा है कि बुजुर्ग के शरीर से चम्मच, कलछी, छोटी प्लेट और घर में इस्तेमाल होने वाले छोटेे बर्तन चिपक रहे हैं।

प्रशासन को वीडियो मिलने के बाद डॉक्टर्स की एक टीम बुधवार को यहां जांच करने के लिए पहुंची। जांच के बाद डॉक्टरों का कहना है कि यह रिसर्च का विषय है और अभी इस पर कोई भी बयान देना जल्दबाजी है। फिलहाल हम इसकी रिपोर्ट महाराष्ट्र सरकार को भी देंगे। उनके निर्देशों के अनुसार काम किया जायेगा।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned