scriptWHO warn coronavirus not-the-last-pandemic be alert for big-crisis | WHO की चेतावनी: Coronavirus को आखिरी महामारी ना समझे, बड़े संकट के लिए रहे तैयार! | Patrika News

WHO की चेतावनी: Coronavirus को आखिरी महामारी ना समझे, बड़े संकट के लिए रहे तैयार!

-Coronavirus: कोरोना संकट के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम गेब्रियेसस ने चेतावनी दी है।
-कोरोना वायरस ( COVID-19 ) कोई अंतिम महामारी नहीं है।
-दुनिया को अगली महामारी के लिए बेहतर तैयार रहने की जरूरत है।
-गेब्रियेसस ने कहा, देशों को बेहतर तरीके से अगले महामारी से निपटने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य में निवेश करना चाहिए।

नई दिल्ली

Updated: September 08, 2020 08:56:04 pm

नई दिल्ली।
Coronavirus: कोरोना संकट के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम गेब्रियेसस ने चेतावनी दी कि कोरोना वायरस ( COVID-19 ) कोई अंतिम महामारी नहीं है। दुनिया को अगली महामारी के लिए बेहतर तैयार रहने की जरूरत है। गेब्रियेसस ने कहा, देशों को बेहतर तरीके से अगले महामारी से निपटने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य में निवेश करना चाहिए। बता दें कि दुनिया में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। अब तक 2 करोड़ 74 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 96 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

WHO warn coronavirus not-the-last-pandemic be alert for big-crisis
WHO की चेतावनी: Coronavirus को आखिरी महामारी ना समझे, बड़े संकट के लिए रहे तैयार!
coronavirus.jpg

अगली महामारी के लिए तैयार रहे दुनिया!
टेड्रोस ने जिनेवा में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “कोरोन वायरस अंतिम महामारी नहीं होगी। इतिहास हमें सिखाता है कि प्रकोप और महामारी जीवन का एक हिस्साहै। लेकिन अगली महामारी आने से पहले हमे तैयार हो जाना चाहिए।

Coronavirus Updates: देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 42 हजार के पार, 24 घंटे में 90 हजार मामले

महामारी से निपटने के लिए दुनिया को तैयार होना चाहिए। डब्ल्यूएचओ की समीक्षा समिति ने वैश्विक कोरोना वायरस महामारी के दौरान अपने अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियमों के प्रदर्शन का आकलन करने के लिए स्थापित किया। एक अनुस्मारक के रूप में, समीक्षा समिति महामारी के दौरान अब तक IHR के कामकाज का मूल्यांकन करेगी। इसके साथ ही पिछले अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियमन समीक्षा समितियों की सिफारिशों को लागू करने में हुई प्रगति की जांच करेगा।

coronavirus_01.jpg

भारत से होगी बातचीत
इस बीच, WHO के एक वरिष्ठ सलाहकार ने कहा है कि वैश्विक स्वास्थ्य निकाय "COVAX" वैश्विक टीकाकरण आवंटन के लिए शामिल होने के बारे में भारत के साथ बातचीत कर रहा है। ब्रूस आयलवर्ड ने रायटर को बताया कि भारत दुनिया के अन्य देशों की तरह ही पात्र है, जो COVAX सुविधा का हिस्सा हैं और इस संबंध में विचार-विमर्श जारी है। बता दें कि भारत अब दुनिया में दूसरा सबसे कोरोना वायरस-हिट देश है। देश में अब तक 42,80,422 लाख मामले और 72,775 मौतें हुई हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

14 अगस्त को 'विभाजन विभिषिका स्मृति दिवस' मनाने पर कांग्रेस का BJP पर हमला, कहा- नफरत फैलाने के लिए त्रासदी का दुरुपयोगइसलिए नाम के पीछे झुनझुनवाला लगाते थे Rakesh Jhunjhunwala, अकूत दौलत के बावजूद अधूरी रह गई एक ख्वाहिशRakesh Jhunjhunwala Net Worth: परिवार के लिए इतने पैसे छोड़ गए राकेश झुनझुनवाला, एक दिन में कमाए थे 1061 करोड़पिता ने नहीं दिए पैसे, फिर भी मात्र 5000 के निवेश से कैसे शेयर बाजार के किंग बने राकेश झुनझुनवालासिर पर टोपी, हाथों में तिरंगा; आजादी का जश्न मनाते दर्जनों मुस्लिम बच्चों का ये वीडियो कहां का है और क्यों वायरल हो रहा है?Rakesh Jhunjhunwala Faith in Sati Dadi Temple: झुंझुनूं की राणी सती दादी मंदिर में थी राकेश झुनझुनवाला की गहरी आस्था'आजादी के अमृत महोत्सव' के तहत भारत-पाकिस्तान सीमावर्ती 30 गांवों के विकास के लिए शुरू हुई अनूठी पहलRajasthan: तीसरी कक्षा के दलित छात्र को निजी स्कूल के शिक्षक ने पानी का कंटेनर छूने को लेकर पीटा, मौत के बाद तनाव, इंटरनेट सेवा बंद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.