मध्य प्रदेश के लिए सबसे बुरी खबर : शायरी के शहंशाह डॉ. राहत इंदौरी का निधन

शायरी के शहंशाह का निधन।

By: Faiz

Published: 11 Aug 2020, 06:12 PM IST

इंदौर/ अपनी बे-बाक शायरी से पूरी दुनिया को मुरूद बना लेने वाले मशहूर शायर डॉ. राहत इंदौरी का आज कोरोना के कारण निधन हो गया है। इंदौर के अरोबिंदो अस्पताल में मंगलवार शाम करीब 4 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। 1 जनवरी 1950 को जन्में राहत इंदौरी को निमोनिया की शिकायत होने पर सोमवार को उनकी कोरोना जांच की गई। मंगलवार सुबह उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसकी जानकारी उन्होंने खुद मंगलवार सुबह अपने फेन्स को ट्वीट करके दी थी। मशहूर शायर राहत इंदौरी 70 साल के थे।

 

पढ़ें ये खास खबर- तिरुपति और गोल्डन टेंपल की तर्ज पर महाकाल मंदिर भी होगा स्वर्ण, चढ़ेगी 250 किलो सोने की परत


ट्वीट करके बताया था सेहत का हाल

 

डॉ राहत इंदौरी ने मंगलवार सुबह ही ट्वीट करके अपने फेन्स को जानकारी दी थी कि, 'कोविड के शरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल (सोमवार ) मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आयी है। ऑरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं। दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं। एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फ़ोन ना करें, मेरी ख़ैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी।'


शिवराज ने शायरी की जबान में जताया दुख

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राहत इंदौरी के निधन पर दुख जताते हुए ट्वीट किया कि, अपनी शायरी से लाखों-करोड़ों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर, हरदिल अज़ीज़ श्री राहत इंदौरी का निधन मध्यप्रदेश और देश के लिए अपूरणीय क्षति है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि उनकी आत्मा को शांति दें और उनके परिजनों और चाहने वालों को इस अपार दुःख को सहने की शक्ति दें।

एक अन्य ट्वीट में शिवराज ने शायरी की जबान में डॉ. राहत इंदौरी को श्रद्धांजलि दी सीएम ने ट्वीट में लिखा कि, '...राह के पत्थर से बढ़ कर कुछ नहीं हैं मंज़िलें
रास्ते आवाज़ देते हैं सफ़र जारी रखो
एक ही नदी के हैं ये दो किनारे दोस्तों
दोस्ताना ज़िंदगी से मौत से यारी रखो

राहत जी आप यूँ हमें छोड़ कर जाएंगे, सोचा न था। आप जिस दुनिया में भी हों, महफूज़ रहें, सफर जारी रहे।'

coronavirus
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned