बेटी को जन्म देते ही चल बसी मां, डॉक्टरों की इस गलती ने मासूम से छिन ली मां

प्रसव के बाद महिला की तबीयत बिगडऩे से मौत, परिजन का हंगामा, परिजन का आरोप डेढ़ घंटे तक एंबुलेंस नहीं बुला सका निजी हॉस्पिटल प्रबंधन, उपचार के अभाव में गई जान

By: रीना शर्मा

Published: 08 Aug 2019, 04:49 PM IST

इंदौर. निजी हॉस्पिटल में प्रसव के बाद महिला की तबीयत बिगडऩे से मौत हो गई। इससे गुस्साए परिजन ने हॉस्पिटल में जमकर हंगामा कर दिया। तोडफ़ोड़ की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव बरामद किया। परिजन का आरोप है की हॉस्पिटल की लापरवाही से महिला की जान गई। पुलिस ने शव का तीन डॉक्टरों से पैनल से पोस्टमॉर्टम कराया। हालांकि सीएमएचओ का कहना है, हमारे पास कोई शिकायत नहींआई। यदि परिजन शिकायत करेंगे तो मामले की जांच कराएंगे।

must read : नहीं थम रहे गीता के आंसू, बोली- अब कौन रखेगा मेरा ख्याल, मेरे लिए सूट का कपड़ा कौन लाएगा

एरोड्रम टीआई अशोक पाटीदार ने बताया पूजा (20) पति गगन ठाकुर निवासी बोहरा कॉलोनी की बुधवार को बांठिया हॉस्पिटल में मौत हो गई। पूजा को उसके परिजन हॉस्पिटल में डिलीवरी के लिए लाए थे। पूजा ने नॉर्मल डिलीवरी के बाद बेटी को जन्म दिया। इसके बाद अचानक तबीयत बिगड़ गई। डॉक्टर ने मरीज को रैफर किया, लेकिन इसी बीच उसकी मौत हो गई।

must read : नहीं थम रहे गीता के आंसू, बोली- अब कौन रखेगा मेरा ख्याल, मेरे लिए सूट का कपड़ा कौन लाएगा

गुस्साए परिजन ने हॉस्पिटल प्रबंधन व डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। परिजन का विरोध देखते हुए पुलिस ने महिला डॉक्टर समेत तीन डॉक्टरों की पैनल से जिला अस्पताल में शव का पोस्टमॉर्टम कराया गया। परिजन ने बताया कि पूजा की यह पहली डिलीवरी थी। उसका मायका हातोद के समीप गुलाटी में था, जबकि पति गगन मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव हैं। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। पुलिस बोली, महिला की मौत में यदि कोई दोषी पाया जाएगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

must read : नहीं थम रहे गीता के आंसू, बोली- अब कौन रखेगा मेरा ख्याल, मेरे लिए सूट का कपड़ा कौन लाएगा

हॉस्पिटल: हार्ट ने अचानक काम करना बंद किया

हॉस्पिटल प्रबंधन ने पुलिस को बताया महिला को सामान्य प्रसव के दौरान एमनियोटिक फ्लूट एम्बोलिजन होने से हार्ट ने अचानक काम करना बंद कर दिया। इससे उसकी मौत हुई है।

must read : नहीं थम रहे गीता के आंसू, बोली- अब कौन रखेगा मेरा ख्याल, मेरे लिए सूट का कपड़ा कौन लाएगा

परिजन : इलाज के अभाव में हुई मौत

पूजा की तबीयत बिगडऩे पर दूसरे अस्पताल ले जाने को कहा, लेकिन डेढ़ घंटे तक हॉस्पिटल प्रबंधन एंबुलेंस नहीं बुला सका। इलाज के अभाव में पूजा की जान चली गई।

must read : नहीं थम रहे गीता के आंसू, बोली- अब कौन रखेगा मेरा ख्याल, मेरे लिए सूट का कपड़ा कौन लाएगा

शिकायत नहीं मिली

परिजन से शिकायत नहीं मिली। शिकायत मिलने पर मामले की जांच करवाएंगे।

- डॉ प्रवीण जडि़या, सीएमएचओ

रीना शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned