IPL 2020 के साथ Patanjali कर रहा हैं Trend, जानिए सबसे बड़ी वजह

  • चीनी स्मार्टफोन कंपनी वीवो छोड़ चुकी है IPL 2020 की Title Sponsorship
  • Byjus, Jio, PayTm, Coca-Cola के साथ Patanjali का भी नाम आ रहा है सामने

By: Saurabh Sharma

Updated: 09 Aug 2020, 02:19 PM IST

नई दिल्ली। आईपीएल 2020 का टाइटल स्पांसरशिप ( IPL 2020 Title Sponsor ) की रेस में पत्रजलि ( Patanjali ) का नाम सामने आ गया है। इस रेस में बायजूस ( Byjus ), जियो ( Jio ), पेटीएम ( PayTm ), कोका कोला ( Coca-Cola ) के नाम तो पहले ही सामने आ चुके हैं। वास्तव में पतंजलि आज सुबह से ही ट्विटर काफी ट्रेंड कर रहा है। वहीं बीसीसीआई ( BCCI ) को आईपीएल ( IPL 2020 ) के लिए नया स्पांसर भी तलाश रही है। ऐसे में सोशल मीडिया यूजर्स पतंजलि की इस बात को लेकर काफी खिंचाई करने में जुटे हुए हैं।

यह भी पढ़ेंः- बाढ़ के बावजूद Bihar और Kerala में खूब बंटा मुफ्त अनाज, Punjab और West Bengal में नहीं बंटा एक भी दाना

किस तरह से हो रही है ट्विटर की खिंचाई
ट्विटर यूजर्स के पोस्ट की ओर ध्यान दिया जाए तो लोगों का कहना है कि इससे बेहतर आत्मनिर्भर भारत क्या हो सकता है कि देसी ब्रैंड पतंजलि आईपीएल 2020 का टाइटल स्पॉन्सर हो। जिसके बाद सोशल मीडिया पर तमाम तरह के कमेंट देखने को मिल रहे हैं , जिसमें यूजर्स पतंजलि की खिंचाई करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः- दुनिया का पांचवां सबसे बड़ा Startup Hub होगी Delhi, पांच साल में होंगे दोगुने Startup

आईपीएल की टाइटल स्पांसरशिप की रेस में पतंजलि
खास बात तो ये है कि आईपीएल 2020 की टाइटल स्पांसरशिप में कई बड़ी ग्लोबल और नामी कंपनियों के बीच पतंजलि का नाम भी सामने आ गया है। बीसीसीआई को टाइटल स्पांसर की बड़ी तेजी के साथ तलाश है। 19 सितंबर यानी करीब 40 दिन के बाद आयोजन यूएई में होना है जो कि 10 नवंबर तक खेला जाएगा। आपको बता दें कि टाइटल स्पांसरशिप की रेस में बायजूस, जियो, पेटीएम के नाम भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ेंः- Festive Season में एक लाख रुपए तक पहुंच सकता है Silver, जानिए Gold कितना हो सकता है महंगा

वीवो प्रत्येक साल देता 440 करोड़ रुपए
भारत और चीन टेंशन के बीच चीन की सबसे बड़ी स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों में से एक वीवो ने आईपीएल की टाइटल स्पांसरशिप छोड़ दी। वावो इसके लिए बोर्ड को 440 करोड़ रुपए हर साल देता था। वीवो प्रो कबड्डी लीग और बिग बॉस से भी अलग हो गया है। दोनों को वीवो 90 करोड़ रुपए दे रही थी। कंपनी के अनुसार वो अब ब्रांडिंग तमें कम खर्चा करेगी।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned