IPO के जरिये 1 हजार करोड़ जुटायेगा रेलवे का वित्त विभाग

IPO के जरिये 1 हजार करोड़ जुटायेगा रेलवे का वित्त विभाग

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 21 Jul 2019, 05:12:45 PM (IST) इंडस्‍ट्री

  • IPO के जरिये 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगा रेलवे का वित्त विभाग।
  • 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी।

नई दिल्ली। IPO के जरिए सरकार भारतीय रेल वित्त निगम ( Indian Railway Finance Corporation ) में 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचकर 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है। इसके लिए सूचीबद्ध करने की प्रक्रिया सितंबर तक पूरी की जाएगी। सूत्रों ने बताया, "हम IPO के लिए आईआरएफसी को सूचीबद्ध करने की प्रक्रिया सितंबर तक पूरी करने जा रहे हैं जिसके जरिए 10 फीसदी की बिक्री करके 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है।"

यह भी पढ़ें - भारतमाला प्रोजेक्ट के लिए हर साल 25 हजार करोड़ देगी एलआईसी, 2024 तक 1.25 लाख करोड़ के फंडिंग का लक्ष्य

सेबी से भी संपर्क करेगा रेलव का वित्त विभाग

भारतीय रेल की वित्तीय शाखा आईआरएफसी रेलवे के विस्तार व परिचालन के लिए पूंजी बाजार से वित्तीय संसाधन व अन्य ऋण जुटाती है। सूत्रों ने बताया, "आईआरएफसी मर्चेट बैंकर की नियुक्ति के बाद मसौदा विवरण पत्रिका के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) से संपर्क करेगी।"

निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (डीआईपीएएम) आईपीओ के लिए रेलवे की अनुषंगी कंपनी को सूचीबद्ध करने को लेकर आशावान है क्योंकि सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम होने के कारण सुरक्षित निवेश को लेकर निवेशकों की इसमें दिलचस्पी देखी गई है।

यह भी पढ़ें - अमेजन प्राइम सेल पर लाखों का झटका, एक गलती की वजह से 9 लाख का कैमरा मात्र 6500 रुपये में बिका

रेलवे की एक और शाखा राइट्स को भी पिछले महीने अपनी आईपीओ में कामयाबी मिली है जब इसके ग्राहकों में 67 गुना इजाफा हुआ। डीआईपीएएम ने वित्तवर्ष के पहले आईपीओ के जरिए रेल विकास निगम से 466 करोड़ रुपये की रकम जुटाई। चालू वित्तवर्ष में 1.05 लाख करोड़ रुपये विनिवेश का लक्ष्य हासिल करने के मद्देनजर इस साल आईपीओ के लिए 10 पीएसयू कतार में हैं।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned