इस एप के द्वारा हुआ था फेसबुक के 40 लाख यूजर्स डेटा का दुरुपयोग, फेसबुक ने लगाया प्रतिबंध

इस एप के द्वारा हुआ था फेसबुक के 40 लाख यूजर्स डेटा का दुरुपयोग, फेसबुक ने लगाया प्रतिबंध

Saurabh Sharma | Updated: 24 Aug 2018, 09:05:16 AM (IST) इंडस्‍ट्री

फेसबुक के थ्रू के लोगों के डाटा का दुरुपयोग करने का मामला अभी तक थमा नहीं है। फेसबुक आैर उनकी टीम उन एप को अपने प्लेटफाॅर्म से हटा रही है जिनके जरिए डेटा लीक होकर दुरुपयोग हुआ था।

नर्इ दिल्ली। फेसबुक के थ्रू के लोगों के डाटा का दुरुपयोग करने का मामला अभी तक थमा नहीं है। फेसबुक आैर उनकी टीम उन एप को अपने प्लेटफाॅर्म से हटा रही है जिनके जरिए डेटा लीक होकर दुरुपयोग हुआ था। अब फेसबुक ने एेसे ही एक आैर एप पर कार्रवार्इ की है। पिछले 6 सालों से यह एप फेसबुक प्लेफाॅर्म था। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर इस एप का नाम क्या है?

इस एप से हुअा डाटा का दुरुपयोग
करीब 40 लाख यूजर्स की निजी जानकारी का एक थर्ड पार्टी एप द्वारा दुरुपयोग किया गया है, जिसका नाम माइ पर्सनैलिटी है। फेसबुक ने गुरुवार को यह खुलासा किया। फेसबुक के उपाध्यक्ष (उत्पाद भागीदारी) इम आर्चिबोंग ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि कंपनी ने इस एप को प्रतिबंधित कर दिया है, जो साल 2012 से ही सक्रिय था।

दो दिनों की राहत के बाद फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, 50 पैसे तक की हो चुकी है वृद्घि

किया एप को प्रतिबंध
आर्चिबोंग ने कहा, "हमने ऑडिट करने का हमारे अनुरोध से इनकार के बाद माइ पर्सनैलिटी एप को प्रतिबंधित कर दिया है, क्योंकि यह स्पष्ट है कि उन्होंने शोधकर्ताओं के साथ ही कंपनियों के साथ सूचनाएं साझा की और उसकी सुरक्षा काफी सीमित थी।"

पेटीएम गोल्ड का रक्षाबंधन पर शानदार आॅफर, 10 ग्राम खरीदिये आैर 100 ग्राम मुफ्त ले जाइए

अभी तक कोर्इ सुबूत नहीं
उन्होंने कहा, "यह देखते हुए कि वर्तमान में हमारे पास कोई सबूत नहीं है कि 'माइपर्सनैलिटी' ने किसी भी मित्र की जानकारी तक पहुंच बनाई है, इसलिए हम इस बारे में लोगों के फेसबुक दोस्तों को सूचित नहीं करेंगे। जानकारी मिलते ही हम उन्हें सूचित करेंगे।"

400 से ज्यादा एप को हटस चुका है फेसबुक
विशाल कैम्ब्रिज एनालिटिका घोटाले ने लगभग 8.7 करोड़ यूजर्स को प्रभावित किया था, उसके बाद फेसबुक ने मार्च से अपने प्लेटफार्म पर हजारों थर्ड पार्टी एप्स की जांच शुरू की है। फेसबुक ने अब तक 400 से ज्यादा एप्स को अपने प्लेटफार्म से हटाया है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned