script अब अमरीका तक पहुंचे रविंद्र सिंह भाटी की जीत के चर्चे, USA के सांसद ने लिखी ऐसी बड़ी बात | American MP Sent Letter To Independent MLA Ravindra Singh Bhati | Patrika News

अब अमरीका तक पहुंचे रविंद्र सिंह भाटी की जीत के चर्चे, USA के सांसद ने लिखी ऐसी बड़ी बात

locationजयपुरPublished: Dec 12, 2023 02:35:52 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

MLA Ravindra Singh Bhati: राजस्थान विधानसभा चुनाव में बाड़मेर जिले की शिव विधानसभा सीट से चुनाव जीतकर विधायक बने रविंद्र सिंह भाटी ने सभी ने चौंका दिया। वहीं भाटी की जीत के चर्चे अब अमरीका तक पहुंच गए हैं। दरअसल अमरीकी संसद (कांग्रेस) के सांसद थानेदार ने ईमेल कर भाटी को जीत की बधाई का पत्र भेजा है।

mla_ravindra_singh_bhati.jpg
MLA Ravindra Singh Bhati: राजस्थान विधानसभा चुनाव में बाड़मेर जिले की शिव विधानसभा सीट से चुनाव जीतकर विधायक बने रविंद्र सिंह भाटी ने सभी ने चौंका दिया। वहीं भाटी की जीत के चर्चे अब अमरीका तक पहुंच गए हैं। दरअसल अमरीकी संसद (कांग्रेस) के सांसद थानेदार ने ईमेल कर भाटी को जीत की बधाई का पत्र भेजा है। इसमें लिखा गया है कि भाटी कम उम्र में शिव विधानसभा निर्वाचित विधायक बने है, जो युवाओं के लिए प्ररेणा हैं।
अमरीकी सांसद ने लिखा है कि भाटी का अटूट जुनून राष्ट्रीय दलों की संबद्धता को पार कर चमकता हुआ नजर आ रहा है। इस तरह युवाओं की लोकतंत्र के उत्सव में सक्रियता आधुनिकीकरण में योगदान के लिए प्रोत्साहित कर रही है। लिखा कि अमेरिकी संसद भाटी की सेवा के प्रति अटूट समर्पण के लिए सम्मानित करेगी। वहीं शिव विधायक रविंद्र सिंह भाटी ने एक्स पर ट्वीट कर अमेरिकी सांसद थानेदार का आभार व्यक्त किया है।
यह भी पढ़ें

Ravindra Singh Bhati Viral Video: रविंद्र सिंह भाटी का चुनाव जीतने बाद ये वीडियो खूब वायरल, आप भी देखें...



आपको बता दें कि रव‍िन्‍द्र स‍िंह भाटी छात्र नेता हैं और वह चुनावों से पहले बीजेपी में शामिल हो गए थे। जब पार्टी ने स्वरूप सिंह को टिकट दिया तो पार्टी में शाम‍िल होने के 9 द‍िन बाद ही उन्होंने बगावत कर दी और निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा। रविंद्र सिंह भाटी जोधपुर स्थित जय नारायण विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष हैं। साल 2019 में भाटी चाहते थे कि उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की छात्र यूनिट अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की तरफ से टिकट दिया जाए, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। ऐसे में बाटी ने साल 2019 में निर्दलीय चुनाव लड़ा और 1294 वोटों से जीत गए। जोधपुर यूनिवर्सिटी में 57 साल बाद ऐसा देखने को मिला जब किसी निर्दलीय प्रत्याशी ने छात्रसंघ का चुनाव जीता। बता दें कि बिना किसी राजनीतिक सहारे भाटी ने अपना नाम छात्र संघ में बनाया।

यह भी पढ़ें

Sheo Chunav Result: ये लड़का है लड़ाका... 26 साल के रविन्द्रसिंह भाटी ने फेल कर दिए सारे गणित

ट्रेंडिंग वीडियो