राजस्थान में नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने से पहले ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर आई बड़ी खबर

राजस्थान में नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने से पहले ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर आई बड़ी खबर

Santosh Kumar Trivedi | Publish: Sep, 13 2019 11:42:26 AM (IST) | Updated: Sep, 13 2019 11:44:21 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

आरटीओ में लाइसेंस आवेदकों की संख्या बढऩे और एक महीना वेटिंग को देखते हुए आमजन को राहत दी गई है। अब आरटीओ में छुट्टी के दिन शनिवार को भी लाइसेंस बनाए जाएंगे।

जयपुर। आरटीओ में लाइसेंस आवेदकों की संख्या बढऩे और एक महीना वेटिंग को देखते हुए आमजन को राहत दी गई है। अब आरटीओ में छुट्टी के दिन शनिवार को भी लाइसेंस बनाए जाएंगे।

 

आरटीओ राजेन्द्र वर्मा ने बताया कि राजकीय अवकाश और रविवार को छोड़कर शनिवार को सितम्बर और अक्टूबर महीने में लाइसेंस बनेंगे। बता दें कि मोटर वीकल एक्ट को देखते हुए लोगों में लाइसेंस बनवाने की जागरुकता बढ़ गई है। लर्निग लाइसेंस में एक महीने की वेटिंग देखी जा रही है।

 

राजस्थान जन सूचना पोर्टल-2019: अब घर बैठे लें सरकारी डिपार्टमेंट्स की जानकारी, जानें कैसे होगा काम

 

केंद्र ने नया मोटर व्हीकल एक्ट एक सितंबर से लागू कर दिया है। राजस्थान में एक्ट पर अभी समीक्षा जारी है। जल्द ही कुछ जुर्मानों में संसोधन के बाद एक्ट को लागू कर दिया जाएगा। एक्ट में भारी जुर्मानों का डर लोगों को सता रहा है। यही कारण है कि जयपुर में पिछले सात दिनों में यातायात नियमों की पालना में जागरूकता देखने को मिली है।

 

पाली पुलिस अधीक्षक ने देर तक जारी किया ये आदेश, पुलिस महकमे में मच गया हड़कंप

 

पिछले कुछ दिन से लाइसेंस लेने वालों के आवेदकों की संख्या बढ़ गई है। अभी चार हजार लोग लाइसेंस लेने के लिए कतार में हैं। तीसरा असर ट्रैफिक नियमों के जुर्माने पर देखने को मिल रहा है। अगस्त की तुलना में यातायात नियमों की उल्लंघन करने वालों की संख्या आधी रह गई है। वहीं रात के समय शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की संख्या में भी कमी आई है।

 

एक्ट लागू होने पहले ही आरटीओ में लाइसेंस के लिए लोगों की आवाजाही बढ़ गई है। आलम है कि 10 दिन से लाइसेंस लेने वालों की संख्या बढ़ गई है। फिलहाल चार हजार लोगों ने लाइसेंस के लिए आवेदन कर रखा है। इसके अलावा लाइसेंस में संशोधन कराने वाले आवेदक भी हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned