scriptRajasthan Election: चुनावी चक्रव्यूह में फंसे गहलोत के ये 5 से अधिक मंत्री, दांव पर प्रतिष्ठा | Rajasthan_Assebly_Election_2023_Results_Diffcult_to_Win_for_5_ministers_Rajasthan_Ashok_Gehlot_Govt | Patrika News

Rajasthan Election: चुनावी चक्रव्यूह में फंसे गहलोत के ये 5 से अधिक मंत्री, दांव पर प्रतिष्ठा

locationजयपुरPublished: Nov 28, 2023 04:14:02 pm

Submitted by:

santosh Trivedi

Rajasthan Election Result 2023: राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम 3 दिसंबर को आएगा। इससे पहले हर तरफ यही चर्चा है कि कौन हारेगा और कौन जीतेगा। राजस्थाान विधानसभा चुनाव 2023 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कई मंत्री चुनावी चक्रव्यूह में फंस गए हैं।

rajasthan_election_result_2023.jpg

rajasthan election Result 2023: राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम 3 दिसंबर को आएगा। इससे पहले हर तरफ यही चर्चा है कि कौन हारेगा और कौन जीतेगा। राजस्थाान विधानसभा चुनाव 2023 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कई मंत्री चुनावी चक्रव्यूह में फंस गए हैं। इस चुनाव में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मंत्रिमंडल के 26 मंत्री चुनाव मैदान में हैं। गहलोत सरकार के मंत्रिमंडल में सीएम अशोक गहलोत सहित 30 मंत्री बनाए गए थे। इनमें से 4 मंत्री चुनाव से बाहर हैं।


1. इस चुनाव में झुंझुनूं विधानसभा सीट पर गहलोत कैबिनेट के परिवहन मंत्री बृजेंद्र सिंह ओला त्रिकोणीय मुकाबले में फंसे हुए हैं। इस बार ओला का मुकबाला भाजपा के बबलू चौधरी से है। वहीं भाजपा से बागी होकर निर्दलीय मैदान में उतरे राजेन्द्र भामूं मुकाबले ने मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है। वे गोसेवा के चलते क्षेत्र में सक्रिय रहे।


2. वरिष्ठ मंत्री डा. बीडी कल्ला बीकानेर पश्चिम से भाजपा प्रत्याशी से कांटे का मुकाबला है। भाजपा ने यहां से नए चेहरे के रूप में जेठानंद व्यास को उतारा है। वे धर्म यात्रा निकालने की वजह से चर्चा में रहे हैं। हिन्दूवादी चेहरे के रूप में उनकी पहचान है। विहिप और संघ के कार्यकर्ता रहे हैं। एक माह पहले ही भाजपा में आए हैं।


3. लालसोट से स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा की हालत पतली है। प्रचार के शुरुआती दौर में उन्हें एक गांव में लोगों के विरोध का भी सामना करना पड़ा था। मंत्री परसादीलाल मीणा की भाजपा के रामविलास मीणा से सीधी टक्कर है। भाजपा के रामविलास दूसरी बार मैदान में हैं। पिछला चुनाव मामूली अंतर से हार गए थे।


4. उम्मीदवार मंत्री प्रमोद जैन भाया अंता विधानसभा सीट पर कड़े मुकाबले में फंसे हैं। भाजपा ने यहां से कंवरलाल मीणा को उतारा है, वे पहले मनोहरथाना से विधायक रहे हैं।


5. सपोटरा विधानसभा सीट से मंत्री रमेश मीणा भाजपा के हंसराज से कड़े मुकाबले में फंसे हैं। रमेश मीणा तीन बार से लगातार चुनाव जीत रहे हैं। क्षेत्र में पकड़ है, लेकिन बोलचाल का तरीका सख्त होने से लोगों में कुछ नाराजगी है। वहीं भाजपा ने हंसराज को पहली बार मैदान में उतारा है। पहले वे बसपा से चुनाव लड़ चुके हैं। मतदताओं पर भी पकड़ है।

यह भी पढ़ें

राजस्थान में होगा बड़ा उलटफेर ! पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का आकलन- कांग्रेस बहुमत के करीब, बनाया ये खास प्लान



इन पांच के अलावा इस चुनाव में ममता भूपेश, शांति धारीवाल, प्रताप सिंह खाचरियावास, अशोक चांदना, टीकाराम जूली और मुरारीलाल मीणा जैसे कई कद्दावर मंत्रियों की प्रतिष्ठा भी दांव पर है। 2013 में हुए राजस्थान विधानसभा चुनाव में गहलोत सरकार के 15 से अधिक मंत्री चुनाव हार गए थे। राजस्थान में कुल 200 विधानसभा सीट हैं, जिनमें से 199 सीटों पर चुनाव हुआ है।

यह भी पढ़ें

राजस्थान में नतीजे ऐसे भी आ सकते हैं कि सभी दल चौंक जाएं, जानिए वजह

ट्रेंडिंग वीडियो