scriptराजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की नई व्यवस्था, परीक्षा से पहले लिखाना होगा – मैं वही परीक्षार्थी हूं, नहीं तो नहीं दे सकेंगे परीक्षा | Rajasthan Staff Selection Board New System in these 2 Ways Dummy Candidates Crackdown Information Assistant Recruitment Examination | Patrika News

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की नई व्यवस्था, परीक्षा से पहले लिखाना होगा – मैं वही परीक्षार्थी हूं, नहीं तो नहीं दे सकेंगे परीक्षा

locationजयपुरPublished: Jan 21, 2024 09:03:02 am

Rajasthan Staff Selection Board New System : राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने डमी अभ्यर्थियों पर शिकंजाकसने के लिए नई व्यवस्था शुरू की है। अब बोर्ड हैंडराइटिंग का नमूना लेगा। जिसमें लिखना होगा, मैं वही परीक्षार्थी हूं, जिसने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया है। साथ ही फेस वीडियोग्राफी करवाई जाएगी। आज राजस्थान में सात संभाग मुख्यालयों पर 10 बजे से सूचना सहायक भर्ती परीक्षा है।

rajasthan_staff_selection_board_1.jpg

Rajasthan Staff Selection Board

Information Assistant Recruitment Exam Today : नई भजनलाल सरकार में राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से पहली प्रतियोगी सूचना सहायक भर्ती परीक्षा रविवार को होगी। इस परीक्षा में डमी अभ्यर्थियों पर शिकंजा कसने के लिए चयन बोर्ड की ओर से नई व्यवस्था की गई है। अब बोर्ड हैंडराइटिंग का नमूना लेगा। जिसमें लिखना होगा, मैं वही परीक्षार्थी हूं, जिसने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया है। साथ ही फेस वीडियोग्राफी करवाई जाएगी। प्रदेश के सात संभाग मुख्यालयों पर सूचना सहायक के 2730 पदों के लिए भर्ती परीक्षा होगी। 445 केन्द्रों पर 1.45 लाख अभ्यर्थी बैठेंगे। राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की पहल के तहत परीक्षा से पहले अभ्यर्थियों को फॉर्मेट दिया जाएगा। जिसमें लिखना होगा कि मैं वही परीक्षार्थी हूं, जिसने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया है और मैं आज इस सूचना सहायक की परीक्षा के लिए उपस्थित हुआ हूं।

दरअसल, बोर्ड की ओर से सभी अभ्यर्थियों की हैंडराइटिंग का नमूना लिया जाएगा। बोर्ड इसका रिकॉर्ड अपने पास रखेगा। गौरतलब है कि पीटीआई और तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षाओं में डमी अभ्यर्थियों के बैठने की शिकायतें मिली थीं। इस पर अंकुश लगाने के लिए बोर्ड ने यह तरीका अपनाया है।


फेस की भी होगी वीडियो रिकॉर्डिंग

सूचना सहायक भर्ती परीक्षा में इस बार एक और नई व्यवस्था की गई है। इसके तहत परीक्षा केन्द्र में बैठे प्रत्येक व्यक्ति के चेहरे की रिकॉर्डिंग की जाएगी। परीक्षा में बैठने वाले अभ्यर्थी का रिकॉर्ड बोर्ड रखेगा। इससे डमी अभ्यर्थी का चेहरा आसानी से पकड़ में आ सकेगा।

यह भी पढ़ें – पुरानी पेंशन योजना पर नया अपडेट, राजेन्द्र राठौड़ का बड़ा बयान

शिकायत मिली तो काम आएंगे नमूने

डमी अभ्यर्थियों के बैठने की शिकायत मिलने पर हैंडराइटिंग और फोटो का रिकॉर्ड निकलवाया जाएगा। संबंधित अभ्यर्थी को बुलाकर उसकी हैंडराइटिंग फॉर्मेट में लिखी हुई हैंडराइटिंग से मिलान की जाएगी। इसके अलावा फोटो का भी मिलान किया जाएगा। इसी आधार पर डमी अभ्यर्थी की पहचान की जा सकेगी।

हर भर्ती परीक्षा में अपनाएगा नई व्यवस्था : आलोक राज

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड अध्यक्ष आलोक राज ने बताया कि राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड हर भर्ती में अब यह व्यवस्था अपनाएगा। सूचना सहायक भर्ती परीक्षा से इसे शुरू किया है। कई बार डमी अभ्यर्थी के खिलाफ सबूत नहीं होते। हैंडराइटिंग का नमूना और वीडियोग्राफी प्रमाण होगा कि परीक्षा कौन दे रहा है।

कहां कितने अभ्यर्थी बैठेंगे

जिला – परीक्षा केन्द्र – अभ्यर्थी
जयपुर – 185 – 66775
अजमेर – 37 – 10963
भरतपुर – 29 – 7926
बीकानेर – 32 – 10104
जोधपुर – 65 – 18898
कोटा – 45 – 12873
उदयपुर – 52 – 17795
कुल – 445 – 145334।

यह भी पढ़ें – राजस्थान में आज सूचना सहायक भर्ती परीक्षा, 1.45 लाख अभ्यर्थी आजमाएंगे किस्मत, इंटरनेट सेवाएं बंद

https://youtu.be/85sS8klNexQ
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो