Video: कहीं लगी लम्बी कतारें, तो कहीं नहीं दिखी भीड़

- सदस्य चुनाव में मतदाताओं में नजर नहीं आया उत्साह
- कोविड-19 गाइडलाइन की उड़ती रही धज्जियां

By: Deepak Vyas

Updated: 28 Nov 2020, 01:02 PM IST

पोकरण. पंचायतीराज चुनाव के अंतर्गत सरपंचों व वार्डपंचों के निर्वाचन के बाद अब पंचायत समिति व जिला परिषद सदस्यों के लिए चुनाव हो रहा है। इस दौरान मतदाताओं में उत्साह की कमी नजर आ रही है। जिले में द्वितीय चरण के अंतर्गत पंचायत समिति सांकड़ा व भणियाणा क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में शुक्रवार को मतदान हुआ। इस दौरान जिला परिषद के सात वार्डों तथा सांकड़ा समिति के 17 व भणियाणा के 16 वार्डों के लिए मतदाताओं ने मतदान किया तथा लोकतंत्र में अपनी आस्था जताई। सुबह साढ़े सात बजे मतदान की शुरुआत धीमी गति से हुई। दोपहर 11 बजे बाद मतदान केन्द्रों पर भीड़ नजर आई। प्रत्याशियों के समर्थक एक-एक वोट मतदान केन्द्रों तक पहुंचाते नजर आए। क्षेत्र के कई मतदान केन्द्रों पर लम्बी कतारें देखने को मिली, तो कुछ जगहों पर मतदान केन्द्रों पर गिनती के मतदाता नजर आए। शाम पांच बजे तक सभी जगह शांतिपूर्ण मतदान हुआ। कहीं कोई अप्रिय वारदात की खबर नहीं मिली। पुलिस की ओर से सभी मतदान केन्द्रों पर पर्याप्त जाब्ता तैनात किया गया था।
अधिकारी करते रहे निरीक्षण
मतदान के दौरान प्रशासन व पुलिस के अधिकारी मतदान केन्द्रों का निरीक्षण करते रहे। पंचायत समिति सांकड़ा के निर्वाचन अधिकारी व पोकरण उपखंड अधिकारी अजय अमरावत, भणियाणा के निर्वाचन अधिकारी व भणियाणा उपखंड अधिकारी राजेश विश्रोई, पुलिस उपाधीक्षक मोटाराम गोदारा पोकरण, हुकमाराम नाचना के साथ क्षेत्र के सभी थानाधिकारी पुलिस जाब्ते के साथ मतदान केन्द्रों का जायजा लेते नजर आए। इसके अलावा पुलिस की ओर से मोबाइल पार्टियां भी लगाई गई। जिससे क्षेत्र में कानून एवं शांति व्यवस्था बनी रही।
सैनेटाइजर से धुलवाए हाथ
सभी मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 की गाइडलाइन को देखते हुए सैनेटाइजर की व्यवस्था की गई थी। मतदाताओं के मतदान केन्द्र में प्रवेश करते समय कार्मिकों की ओर से उन्हें सैनेटाइज किया गया। साथ ही मास्क लगाने के लिए पाबंद किया गया। कतारों में भी पुलिस बार-बार मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए टोकती नजर आई।
उड़ती रही नियमों की धज्जियां
कोरोना संक्रमण की महामारी को रोकने के लिए कोविड-19 गाइडलाइन जारी की गई है। जिसके अंतर्गत मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए नियम जारी किए गए है। दूसरी तरफ मतदान केन्द्रों पर कहीं पर भी नियमों की पालना नजर नहीं आई। मतदाता एक दूसरे से सटकर खड़े रहे तथा कई मतदाता बिना मास्क ही खड़े नजर आए। हालांकि पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों व कर्मचारियों की ओर से मतदाताओं से बार-बार समझाइश की गई, लेकिन मतदाता बेखौफ नियमों का मखौल बनाते नजर आए।
बुजुर्गों व दुल्हों ने किया मतदान
क्षेत्र के मतदान केन्द्रों पर वृद्धों ने अपने परिवारजनों के साथ पहुंचकर मतदान किया। इसी प्रकार इन दिनों विवाह की सीजन चल रही है। ऐसे में नवविवाहित जोड़े भी मतदान के लिए केन्द्र पर पहुंचे। बीती रात भी विवाह जोड़े में बंधे जोड़े मतदान के लिए पहुंचे, जो आकर्षण का केन्द्र बने रहे।
केन्द्रों के बाहर लगी रही भीड़
क्षेत्र के मतदान केन्द्रों से 200 मीटर की दूरी पर प्रत्याशियों की ओर से अपने डेरे लगाए गए थे। इन डेरों पर मतदाताओं की भीड़ नजर आई। मतदाता आपस में चुनावी चर्चा और वोटों का गणित लगाते देखे गए। इस दौरान यहां दिनभर चहल पहल व गहमा गहमी देखी गई।
चार कोरोना संक्रमितों ने किया मतदान
पंचायत समिति सांकड़ा क्षेत्र की दो ग्राम पंचायतों में शुक्रवार को चार कोरोना संक्रमितों ने भी मतदान किया। ग्राम पंचायत मोराणी में तीन व खेतोलाई में एक कोरोना संक्रमित ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। शाम पांच बजे बाद कोरोना संक्रमितों को मतदान केन्द्रों में प्रवेश दिया गया तथा मतदान करवाया गया।
नेताओं ने भी किया दौरा
चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता भी क्षेत्र में जनसंपर्क करते नजर आए। केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने क्षेत्र के कई मतदान केन्द्रों के बाहर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और मतदाताओं से मुलाकात की। इसी प्रकार भाजपा के कई नेता भी मतदान केन्द्रों पर घूमते देखे गए। प्रत्याशियों ने भी अपने क्षेत्र में जनसंपर्क किया और मत एवं समर्थन की अपील करते नजर आए।
लाठी. गांव में शुक्रवार को जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्यों के लिए मतदान हुआ। इस दौरान मतदाताओं में उत्साह नजर आया। लोगों ने कोरोना की महामारी को भूलकर नियमों की परवाह किए बगैर बढ़ चढ़कर मतदान किया। क्षेत्र की धोलिया, भादरिया ग्राम पंचायतों में भी शांतिपूर्ण मतदान संपन्न हुआ। शुक्रवार को सुबह मतदान की गति धीमी रही। सर्दी का मौसम होने के कारण 10 बजे बाद मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की भीड़ देखी गई। दोपहर के समय भीड़ होने से मतदान प्रतिशत में भी इजाफा हुआ। दोपहर बाद जिला कलक्टर आशीष मोदी, जिला पुलिस अधीक्षक डॉ.अजयसिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओपी विश्रोई ने लाठी में मतदान केन्द्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। क्षेत्र में लाठी थानाधिकारी अचलाराम ढाका ने दिनभर गश्त कर कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखी। स्थानीय निवासी सद्दामखां का कुछ दिन पूर्व पैर फ्रैक्चर होने के बाद भी उसने मतदान केन्द्र पहुंचकर अपने मताधिकार का उपयोग किया।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned