'देश की युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा स्रोत थे राजीव गांधी'

'देश की युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा स्रोत थे राजीव गांधीÓ

By: Deepak Vyas

Updated: 21 Aug 2021, 08:31 PM IST

जैसलमेर. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी भारत के युवा पीढ़ी के प्रेरणा स्रोत थे। देश के युवाओं के लिए उन्होंने अपने प्रधानमन्त्री कार्यकाल के दौरान अनेक कदम उठाए। इस दौरान 18 वर्ष के युवा को मताधिकार और युवाओं के जीवन का समग्र एवं चहुमुखी विकास के लिए मानव संसाधन मन्त्रालय की स्थापना उनकी ही देन है। यह बात केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने शुक्रवार को राजीव गांधी की जयन्ती के अवसर पर आयोजित सदभावना दिवस के अवसर पर कही। इस अवसर पर नगरपरिषद के सभापति हरिवल्लभ कल्ला ने कहा कि राजीव गांधी देश में आधुनिक तकनी की क्रान्ति के वास्तविक जनक थे। उन्होंने प्रधानमन्त्री पद रहते हुए पूर्वाग्रह से कोसों दूर रह कर एक सच्चे इंसान के रूप में देश की सेवा की। जिलापरिषद सदस्य अंजना मेघवाल के कहा कि स्वतन्त्र भारत के इतिहास मे संसद मे सर्वाधिक बहुमत प्राप्त करने वाली सरकार के प्रधानमन्त्री राजीव गांधी जीवन सादगी से भरा था। उन्होने अपने प्रधानमन्त्री कार्यकाल के दौरान देश में लोकतन्त्र मजबूत करने के साथ - साथ देश की पंचायत राज व्यवस्था को भी मजबूत बना कर देश की अंतिम पंक्ति में खडे आम आदमी के हितों की रक्षा की। प्रवक्ता चन्द्रषेखर पुरोहित ने बताया कि सभा में जिलाध्यक्ष गोविंद भार्गव, राणजी चौधरी, प्रदेश सचिव उम्मेदसिंह तंवर, मूलाराम चौधरी, अशोक तंवर, पार्षद सुमार खान, उपसभापति खीमसिंह, राधेश्याम कल्ला, धर्मेन्द्र आचार्य, पार्षद आनंद व्यास, गिरीश व्यास, ब्रजरतन छंगाणी, राजकुमार भाटिया, मेघराज परिहार आदि मौजूद थे।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned