scriptस्वर्णनगरी के आसमान में छाई कालिमा, बादलों का छल और गांवों में बरसे | Patrika News
जैसलमेर

स्वर्णनगरी के आसमान में छाई कालिमा, बादलों का छल और गांवों में बरसे

जैसलमेर जिले भर में सोमवार को मौसम के विविध रूप देखने को मिले। शहर में जहां सुबह से लेकर रात तक बादलों की आवाजाही बनी रही। हालांकि बारिश को लेकर इंतजार केवल इंतजार ही बना रहा। उधर, ग्रामीण क्षेत्रों में बादलों ने निराश नहीं किया। उधर, मोहनगढ़, डेढ़ा, खुहड़ी, कुम्हारकोठा, रूपसी, सिपला, चेलक, सम सहित आसपास के गांवों में बारिश होने से ग्रामीणों के चेहरे खिले नजर आए।

जैसलमेरJul 08, 2024 / 08:50 pm

Deepak Vyas

jsm news
जैसलमेर जिले भर में सोमवार को मौसम के विविध रूप देखने को मिले। शहर में जहां सुबह से लेकर रात तक बादलों की आवाजाही बनी रही। हालांकि बारिश को लेकर इंतजार केवल इंतजार ही बना रहा। उधर, ग्रामीण क्षेत्रों में बादलों ने निराश नहीं किया। उधर, मोहनगढ़, डेढ़ा, खुहड़ी, कुम्हारकोठा, रूपसी, सिपला, चेलक, सम सहित आसपास के गांवों में बारिश होने से ग्रामीणों के चेहरे खिले नजर आए। स्वर्णनगरी में सुबह से ही आसमान में बादलों का पहरा बना रहा। दोपहर में आमसान में छाए काले बादलों से बारिश होने की आस बंधी, लेकिन शाम तक बादल बरसने का इंतजार केवल इंतजार ही बना रहा। दिन भर उमस व गर्मी ने आमजन को बेहाल कर दिया। जैसलमेर के समीप ग्रामीण क्षेत्रों में बादल बरसने से आमजन को राहत अवश्य मिली।
मोहनगढ क्षेत्र में सोमवार सुबह के समय आसमान में घने बादल छाए रहे। घने बादलों की वजह से सुबह से घना अंधेरा छाया रहा। घने बादलों के साथ चली शीतल हवाओं ने गर्मी का असर बिल्कुल ही कम कर दिया। सुबह करीब आधा घंटा तक रिमझिम बरसात का दौर जारी रहा। ऐसे में परनालों से पानी बहने लगा। सड़कों पर भी पानी जमा हो गया। बरसात के होने से मौसम सुहावना हो गया। सुबह दस बजे के बाद उमस में बढोतरी हो गई। साथ ही बिजली के घंटों गुल रहने से ग्रामीणों का जीना दुश्वार हो गया। दिन भर उमस के कारण ग्रामीण पसीने से भीगते नजर आए। दोपहर बाद गुल हुई बिजली सांय साढे सात बजे तक भी बहाल नहीं हो पाई थी।

Hindi News/ Jaisalmer / स्वर्णनगरी के आसमान में छाई कालिमा, बादलों का छल और गांवों में बरसे

ट्रेंडिंग वीडियो