दिन दहाड़े युवक के हाथ काटे,गाड़ी चढ़ाकर मारने का भी किया प्रयास,हमलावर फरार

जैसलमेर मुख्यालय स्थित इंदिरा कॉलोनी में सोमवार दिन दहाड़े बोलेरो में सवार होकर आए लोगों ने तलवार के वार से युवक के हाथ काट दिए, जिससे पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। आसपास मौजूद लोग डाबला निवासी सुरेश सैन पुत्र भूराराम सैन को जवाहर चिकित्सालय लेकर पहुंचे। जहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे जोधपुर रैफर कर दिया। मामले की जानकारी मिलने के बाद कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और बाद में अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में घायल सुरेश से पुलिस ने बयान लिए।

By: Deepak Vyas

Updated: 15 Jul 2019, 07:14 PM IST

जैसलमेर.जैसलमेर मुख्यालय स्थित इंदिरा कॉलोनी में सोमवार दिन दहाड़े बोलेरो में सवार होकर आए लोगों ने तलवार के वार से युवक के हाथ काट दिए, जिससे पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। आसपास मौजूद लोग डाबला निवासी सुरेश सैन पुत्र भूराराम सैन को जवाहर चिकित्सालय लेकर पहुंचे। जहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे जोधपुर रैफर कर दिया। मामले की जानकारी मिलने के बाद कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और बाद में अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में घायल सुरेश से पुलिस ने बयान लिए। जिसमें उसने हमले और हमलावरों के बारे में जानकारी दी। शाम तक पुलिस किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी और उनकी तलाश में दबिशें जारी थी।
पुराने झगड़े की परिणति
जवाहर चिकित्सालय से जोधपुर ले जाते समय घायल सुरेश सैन ने पत्रकारों को बताया कि चार-पांच दिन पहले किसी बात को लेकर उसका झगड़ा हुआ था। सोमवार को श्यामसिंह, राजूसिंह, पूनमसिंह, अखेराजसिंह निवासी बडोड़ा गांव आदि बोलेरो में सवार होकर आए और उस पर तलवार से हमला कर दिया। उसने बताया कि अखेराजसिंह ने बाद में उस पर गाड़ी चढ़ानी चाही लेकिन किसी के बीच में आने से वह ऐसा नहीं कर सका। इसके बाद हमलावर वहां से फरार हो गए। गौरतलब है कि हथियार के वार से सुरेश का एक हाथ तो लगभग पूरा कट गया जबकि दूसरा हाथ भी गंभीर रूप से जख्मी हुआ है।
पुलिस टीमें गठित की
मामले की गंभीरता के मद्देनजर जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार आरोपियों की धरपकड़ के लिए तीन-चार टीमों का गठन किया गया है। उपअधीक्षक के नेतृत्व में टीमें जगह-जगह दबिशें दे रही हैं। शहर कोतवाल किशनसिंह चारण ने बताया कि अभी तक किसी को दस्तयाब नहीं किया जा सका है। पुलिस ने यह मामला भादसं. की धारा 304 और अन्य धाराओं में दर्ज किया है। इधर हाथ काटने की इस घटना की चर्चा सोमवार शाम से शांत माने जाने वाले जैसलमेर में हर कहीं होती नजर आई। लोगों के अनुसार इस प्रकार की घटना से प्रतीत होता है कि जैसलमेर के शांत वातावरण को अब समाजकंटकों की नजर लग रही है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned