खाभा फोर्ट में सूर्य नमस्कार से होगी सूरज की अगवानी

-कुलधरा में होगा प्राचीन विरासतों का दिग्दर्शन
-लाणेला के रण में अश्वों का कारवां जगाएगा रोमांच
-सम के धोरों पर थमेगी लोक लहरियों की धमाल

By: Deepak Vyas

Published: 26 Feb 2021, 11:07 PM IST


जैसलमेर. विख्यात मरु महोत्सव का चौथे और अंतिम दिन शनिवार को उगते सूरज की अगवानी में सूर्य नमस्कार से ओज तेज और सेहत पाने, पुरातन विरासतों के दिग्दर्शन और अश्वों की दौड़ का आनंद देगा। वहीं सांझ सम के मखमली धोरों पर सन सेट के दिग्दर्शन, कैमल और जीप सफारी का रोमांच जगाएगा। रात में माटी की सौंधी गंध के साथ सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से सजेगीए विश्व प्रसिद्ध लोक कलाकार लोक संस्कृति का वो झरना बहाएंगे।
खाभा फोर्ट में सूर्य नमस्कार और मयूर दर्शन
मरु महोत्सव के चौथे और अंतिम दिन शनिवार को सुबह 6:30 बजे खाभा फोर्ट परिसर में उगते सूरज की अगवानी में सूर्य नमस्कार कार्यक्रम होगा। आयुर्वेद उप निदेशक डॉ. रामनरेश शर्मा के अनुसार आयुर्वेद विभाग की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम को लेकर व्यापक तैयारियां की गई हैं। शनिवार की प्रभात में खाभा में मयूर दर्शन का मंत्र मुग्ध कर देने वाला मनोहारी दृश्य भी देखने को मिलेगा। इस दौरान पूरे परिसर में रावण हत्था, कमायचा, मोरचंग, अलगोजा आदि पर केन्द्रित पाश्र्व संगीत की लाईव प्रस्तुति होती रहेगी। खाभा फोर्ट में मरु महोत्सव के चारों ही दिन खाना-पीना एट खाभा की परिकल्पना पर थीम रेस्टोरेंट संचालित रहेगा। इसके उपरान्त प्रात: 9 से 11 बजे पुरा विरासत कुलधरा में कैटल शो, वॉल पेंटिंग, रंगोली, माण्डणा आदि का प्रदर्शन होगा।
लाणेला के रण में अश्वों की दौड़ का अनुपम नजारा
मध्याह्न 12:30 से दोपहर 2 बजे तक लाणेला के रण में सिंधी नस्ल के अश्वों की दौड़ और अश्वारोहियों के रोमांचक कार्यक्रम, अश्व नृत्य आदि होंगे। इसमें विभिन्न प्रदेशों के बेहतरीन नस्ल के श्रेष्ठ घोड़े शामिल होंगे।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned