script खिड़की से झांक रही थी मौत ! 22 साल के युवक ने तोड़ा दम | 22 year old youth dies due to electric shock in Jalore | Patrika News

खिड़की से झांक रही थी मौत ! 22 साल के युवक ने तोड़ा दम

locationजालोरPublished: Feb 05, 2024 04:13:48 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

आयुर्वेदिक कंपनी के सेल्समैन जालौर निवासी उत्तम (22) की मौत अचानक आई। यूं कहें कि मौत खिड़की से झांक रही थी और सफाई के बहाने आ गई। उत्तम और उसका दोस्त अजय शनिवार शाम हॉल की सफाई करने के दौरान खिड़की से लोहे के पाइप को निकाल रहे थे।

22_year_old_youth_dies_due_to_electric_shock_in_jalore.jpg
आयुर्वेदिक कंपनी के सेल्समैन जालौर निवासी उत्तम (22) की मौत अचानक आई। यूं कहें कि मौत खिड़की से झांक रही थी और सफाई के बहाने आ गई। उत्तम और उसका दोस्त अजय शनिवार शाम हॉल की सफाई करने के दौरान खिड़की से लोहे के पाइप को निकाल रहे थे। इस दौरान 33 केवी हाइटेंशन लाइन के करंट की चपेट में आ गए। हादसे में उत्तम की मौत हो गई, जबकि उसका साथी अजय निजी अस्पताल में भर्ती है। रविवार को उत्तम के परिजन व दोस्तों ने आरोप लगाया कि मकान मालिक की लापरवाही के कारण हादसा हुआ।
आर्थिक सहायता दिलवाने की मांग
उन्होंने मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता दिलवाने की मांग की। उत्तर प्रदेश के आगरा निवासी अजय प्रजापति (20) व जालौर निवासी उत्तम (22) एक आयुर्वेद दवा कंपनी के लिए मार्केटिंग करते थे। दोनों ने काम के सिलसिले में देवली अरब रोड पर श्रीप्लाजा में पहली मंजिल पर एक हॉल किराए पर लिया था। शनिवार शाम दोनों हॉल की सफाई कर रहे थे। इस दौरान हॉल में रखा 25 फीट लम्बा पाइप दोनों ने पकड़ा और उसे खिड़की के रास्ते निकाला। खिड़की के सामने से गुजर रही 33 केवी विद्युत लाइन से पाइप का एक सिरा का छू गया और दोनों करंट की चपेट में आ गए। दोनों को तत्काल तलवंडी स्थित एक निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां चिकित्सक ने उत्तम को मृत घोषित कर दिया। जबकि अजय को भर्ती कर लिया। पुलिस ने उत्तम के शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया था।
यह भी पढ़ें

राजस्थान में सामने आया दिल दहलाने वाला मामला, कुएं पर सो रहे युवक की तलवार से काटकर निर्मम हत्या



मकान मालिक सामान हटा लेता तो नहीं होता हादसा
रविवार सुबह मृतक उत्तम के परिजन, दोस्त व कंपनी के अन्य साथी मोर्चरी पहुंच गए। मृतक के साथी जोधपुर निवासी भवानी सिंह ने बताया कि ऑफिस के काम के सिलसिले में हॉल किराये पर लिया था। हॉल में पड़ा सामान अगर मकान मालिक पहले ही हटा लेता तो हादसा नहीं होता। अजय व उत्तम ने मकान मालिक से सामान हटाने को भी बोला था, लेकिन उसने कहा कि वे स्वयं सामान हटा लें। हॉल में रखा बैड व शीशे हटाए थे। 25 फीट लम्बा लोहे का पाइप दरवाजे व सीढ़ियों से नहीं निकल पा रहा था। इस कारण उसे खिड़की के रास्ते निकाल रहे थे कि हादसा हो गया। मृ़तक के साथी अन्नू गोस्वामी ने मालिक के खिलाफ कार्रवाई करने व मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता दिलाने की मांग की।

ट्रेंडिंग वीडियो