प्रशासन की अनदेखी से तालाब में बस रही कॉलोनी

प्रशासन की अनदेखी से तालाब में बस रही कॉलोनी

Khushal Singh Bhati | Publish: Sep, 04 2018 10:47:15 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

बेरोकटोक धड़ल्ले से हो रहा है निर्माण, भू-माफियाओं के आगे पालिका प्रशासन बना हुआ है बेबस, दीवार बनाकर कर रहे है रास्ते को अवरूद्ध।

 

भीनमाल. शहर के जसवंतपुरा रोड पर भू-माफिया सुनियोजित ढंग से एक तालाब पर अतिक्रमण हो रहा हैै। तालाब को मिट्टी से भरकर पाट रहे हैं। भूमाफिया तालाब की करीब चार बीघा जमीन पर अतिक्रमण कर आगे से आगे लाखों रुपए में बेच रहे हैं। वर्तमान समय में तालाब का अस्तित्व ही समाप्त हो गया है। करीब चार बीघा तालाब एक छोटे से गड्ढे में तब्दील हो गया है। चौकाने वाली बात तो यह है कि कई भू-माफियाओं ने पालिका से सांठ-गांठ कर पट्टे भी जारी कर दिए है। लोगों का कहना है कि तालाब को मिट्टी से पाटने की वजह से बरसात के दिनों में बारिश का पानी आबादी क्षेत्र में घुस जाता है। इतना हीं भू-माफिया अतिक्रमण कर 20 फीट रास्ते पर भी दीवार खींचकर अतिक्रमण कर रहे है। हैरानी की बात तो यह है कि लोगों की शिकायत के बाद भी पालिका प्रशासन नाड़ी की जमीन पर हो रहे अतिक्रमण को रोकने की जहमत नहीं उठा रहा है। पालिका से सांठगांठ कर भू-माफिया सरकारी जमीन को ऊंचे दामों में बेचकर मालामाल हो रहे है। इस संबंध में हलका पटवारी भी जवाब देने को तैयार नहीं है।
राजस्व रेकर्ड में दर्ज है गैर मुमकिन नाडी
जसवंतपुरा रोड़ पर डीटीओ ऑफिस रोड पर सरकार के राजस्व रेकर्ड में खसरा नंबर गैर मुमकिन नाड़ी दर्ज है। 0.65 हैक्टेयर गैर मुमकिन नाडी का रकबा है। राजस्व विभाग के मुताबिक करीब चार बीघा तालाब की जमीन है। राजस्व विभाग के अधिकारी भी तालाब की जमीन पर अतिक्रमण की बात स्वीकारते है, लेकिन अतिक्रमण हटाने को लेकर गंभीर नजर नहीं आ रहे है। भू-माफियाओं के ऊंचे रसूखात के आगे पालिका प्रशासन के अधिकारी भी बेबस है। यह नाडी नगरपालिका की आबादी भूमि में है।
करोड़ों के दाम, भू-माफिया की हो रही है बल्ले-बल्ले
तालाब में सुनियोजित ढंग से एक कॉलोनी बस गई। कॉलोनी में नियमों की धज्जियां उडाते हुए डिस्कॉम व जलदाय विभाग ने बिजली व पानी के कनेक्शन भी दे दिए है। बिजली व पानी के कनेक्शन मिलने से अतिक्रमण करने वालो के हौसले बढ़ गए। यह ही वजह है कि तालाब में दर्जनों लोगों ने अतिक्रमण कर दिया है। अभी भी इस रोड पर बेरोकटोक अतिक्रमण हो रहा है। छगनाराम पुरोहित, नगाराम ने बताया कि पालिका की ओर से अतिक्रमण को नहीं हटाने पर एसडीएम ऑफिस के बाहर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। इस नाड़ी की जमीन पर बसे पूर्व कब्जे को लेकर भी राजस्व मण्डल में प्रकरण चल रहे है, लेकिन उसके बाद भी कोई आगे नहीं आ रहा है। लोग रातों-रात इस जमीन पर कब्जा कर चार-दीवार बना देते हंै। फिर चार दिवारी में मिट्टी डालकर पाट देते है, उसे ऊपर उठा देते है। इसके बाद उसे प्लॉट बताकर मुहमांगे दामों में आगे से आगे बेचकर देते है।
करेंगे कार्रवाई
गैर मुमकिन नाड़े की जमीन पर अतिक्रमण की शिकायत तो आई है, लेकिन अवकाश होने से दो दिन में कार्रवाई नहीं हुई। पुलिस जाब्ते के साथ अतिक्रमण को हटा देंगे। वैसे निर्माण को लेकर अनुमति भी नहीं है। जो भी पट्टे दिए गए है, वो पूर्व में दिए गए है। नाडी की जमीन पर किसी भी सूरत में अतिक्रमण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
अरुण कुमार शर्मा, अधिशाषी अधिकारी, नगरपालिका-भीनमाल
निर्देश देता हूं
जसवंतपुरा रोड पर नाडी की जमीन पर निर्माण हो रहा है, तो गलत है। उपखण्ड अधिकारी व नगरपालिका ईओ को निर्माण हो हटाने के लिए निर्देशित कर रहा हूं।
बीएल कोठारी, जिला कलक्टर-जालोर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned