मोबाइल में स्थानीय लोगों से जुड़े अश्लील क्लिप रखता था DSP देविंदर सिंह, लगातार छापेमारी कर रहा NIA

Jammu Kashmir News: पुलिस (Jammu Kashmir Police) ने डीएसपी देविंदर सिंह (DSP Devinder Singh) को (HM) हिजबुल मुजाहिद्दीन (Hizbul Mujahideen) के आतंकियों के साथ गिरफ्तार किया था, देविंदर सिंह को लेकर (National Investigation Agency) कई (NIA) खुलासे हो चुके हैं...

 

(जम्मू,योगेश): हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकियों के साथ पकड़े गए जम्मू—कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह के मामले की जांच करने कश्मीर पहुंची राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने रविवार को शोपियां में तीन ठिकानों पर छापेमारी की। सूत्रों के अनुसार डीआईजी रैंक के अधिकारी के नेतृत्व में एक दल शनिवार को कश्मीर पहुंचा था। पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद पहले अनंतनाग में छापेमारी की गई।

 

यह भी पढ़ें: BJP ने उमर अब्दुल्ला को दिया 'रेजर' का उपहार, सचिन पायलट ने की ऐसी खिंचाई होना पड़ा शर्मिंदा


सिंह को ट्रांजिट रिमांड मिलने के बाद एनआईए अधिकारी उससे जम्मू में ही पूछताछ कर रहे हैं। साथ ही उसके खिलाफ सबूत जुटाने के लिए छापेमारी की जा रही है। सूत्रों ने बताया कि देविंदर सिह का मोबाइल फोन जांच के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञों के पास भेजा गया था। फोरेंसिक विशेषज्ञों को मोबाइल में अश्लील तस्वीरें और वीडियो क्लिप मिली है। यह सभी कश्मीर से ही संबंधित है। देविंदर ने मोबाइल फोन में यह सब क्यों रखा था? इस बारे में भी पूछताछ की जा रही है। पिछले सप्ताह एनआइए डीजी वाईसी मोदी भी मामले में जांच की समीक्षा कर चुके हैं।

 

यह भी पढ़ें: Coronavirus: भारत के इन राज्यों के दर्जनों छात्र चीन में फंसे, कईं परेशानियां आ रहीं सामने, PM से वापस लाने की गुहार

बता दें कि जम्मू कश्मीर पुलिस में तैनात डीएसपी देविंदर सिह को 11 जनवरी को पुलिस ने श्रीनगर जम्मू हाईवे पर अल स्टाप मीर बाजार कुलगाम में पकड़ा था। देविंदर सिंह की कार में हिजबुल मुजाहिद्दीन का ईनामी आतंकी नवीद मुश्ताक अपने साथी आरिफ और लश्कर के ओवरग्राऊंड वर्कर इरफान मीर के साथ बैठा हुआ था। जांच में यह खुलासा हुआ कि देविंदर सिंह हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकियों की मदद के बदले मोटी रकम लेता था। वह आतंकियों को जम्मू—कश्मीर ही नहीं बल्कि देश के दूसरे राज्यों में सुरक्षित पहुंचाने की व्यवस्था भी करता था। देविंदर की गिरफ्तारी ने जम्मू-कश्मीर और केंद्र में सुरक्षा एजेंसियों को हिला दिया।

 

यह भी पढ़ें: निर्भया के दोषियों की फांसी के ऐलान से इस कदर घबराया, प्लान बनाकर जेल से फरार हुआ रेप का आरोपी


सिंह श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के अपहरण विरोधी विंग में एक अधिकारी थे, और पिछले महीने कश्मीर का दौरा करने वाले अमेरिकी राजदूत सहित विदेशी राजदूतों का एक समूह प्राप्त करने वाले सुरक्षा कर्मचारियों का हिस्सा था।

जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: खेलते-खेलते 2 बच्चों को मिली दर्दनाक मौत, परिजनों को भी नहीं हुआ भरोसा

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned