Video: गोलियों के बीच सरेंडर के लिए कहते रहे जवान, कुलगाम मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर

Watch Video: दहशतगर्द घाटी (Jammu Kashmir News) को दहलाने की फिराक में हैं। भारतीय सुरक्षाबलों (Indian Army) के (chinar corps) जवान आतंकियों के किसी भी नापाक मंसूबे को कामयाब नहीं होने देंगे (2 Terrorists Killed In Wampura Kulgam Encounter) (Terrorists Encounter In Jammu Kashmir) (Jammu Kashmir Encounter Video)...

By: Prateek

Published: 30 May 2020, 04:04 PM IST

श्रीनगर: एक तरफ जहां देश कोरोना वायरस की महामारी से निजात पाने में जुटा है वहीं दहशतगर्द घाटी को दहलाने की फिराक में हैं। भारतीय सुरक्षाबलों के जवान आतंकियों के किसी भी नापाक मंसूबे को कामयाब नहीं होने देंगे। इसी दिशा में कदम उठाते हुए सुरक्षाबलों ने कुलगाम जिले में शनिवार को दो आतंकी मार गिराए।

 

 

अंतिम समय तक समझाते रहे जवान...

मिली जानकारी के अनुसार कुलगाम पुलिस को वामपोरा (Wampora) इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। इस पर पुलिस व सेना के जवानों की संयुक्त टीम ने मौके पर पहुंचकर आतंकियों को घेर लिया। जिस घर में आतंकी छिपे थे जवानों ने उसके चारों और पहरा लगा दिया। सुरक्षाबलों की ओर से आतंकियों को सरेंडर करने करने के लिए खूब समझाइश की गई। इस पर भी वह माने नहीं। समझाइश के दौरान भी वह गोलियां दागते रहे।

 

यह भी पढ़ें: सोनू सूद ने किया खुलासा, प्रवासियों को भेजने में एक बस पर होता है इतना खर्च, जानकर होश उड़ जाएंगे

समझाइश का नहीं हुआ कोई असर...

Video: गोलियों के बीच सरेंडर के लिए कहते रहे जवान, कुलगाम मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर

सामने से लगातार गोलीबारी होते सुरक्षाबलों के जवानों ने मोर्चा संभाला। मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर हो गए। मृत आतंकियों की पहचान फिलहाल नहीं हो पाई है। इनके पास से कईं हथियार बरामद किए गए। सुरक्षाबलों की ओर से इलाके में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

 

यह भी पढ़ें: मजदूरों के लिए फरिश्ता बने Sonu Sood को मदद करते देख बॉलीवुड एक्टर ने सरकार पर साधा निशाना.कही ये बड़ी बात

आतंकी दोहराना चाहते थे पुलवामा हमला...

बता दें कि सुरक्षाबलों के आतंक विरोधी अभियान के चलते जम्मू—कश्मीर में कईं बड़ी आतंकी वारदातें टल गई हैं। बीते दिनों पुलवामा में आईईडी से भरी एक गाड़ी को सुरक्षाबलों ने बरामद किया था। 45 से 50 किलो विस्फोटक देखकर जवान भी दंग रह गए थे। बताया गया है कि इस वारदात के पीछे आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन और जैश—ए—मोहम्मद का हाथ था। 2019 में हुए पुलवामा हमले की तरह ही इस बार भी सुरक्षाबलों के जवानों के काफीले को निशाना बनाने की योजना आतंकियों की थी जिसे हमारे जवानों ने नाकाम कर दिया। फिलहाल इस मामले में भी छानबीन जारी है। गाडी देने वाले हिजबुल आतंकी हिदायतुल्ला मलिक के भाई समीर मलिक को शोपियां से गिरफ्तार कर लिया गया है।

Pulwama Car Bomb Case: हिज्बुल आतंकी ने दी थी विस्फोटक से लदी कार! पुलिस ने भाई को किया गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned