scriptBranded liquor being served openly in hotels and dhabas Janjgir | Janjgir Champa: गृहमंत्री के आदेश ने तोड़ा दम, होटल व ढाबों में खुलेआम परोसी जा रही ब्रांडेड शराब | Patrika News

Janjgir Champa: गृहमंत्री के आदेश ने तोड़ा दम, होटल व ढाबों में खुलेआम परोसी जा रही ब्रांडेड शराब

locationजांजगीर चंपाPublished: Feb 05, 2024 04:25:44 pm

Submitted by:

Khyati Parihar

Janjgir Champa News: जांजगीर जिले में गृह मंत्री के आदेश की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। सरकार बनते ही गृह मंत्री अलर्ट मोड में आई थी और अवैध शराब बिक्री पर अंकुश लगाने के लिए सभी होटल ढाबों में लगातार छापेमारी की गई थी। इसके बाद अब यह अभियान ठंडे बस्ते में चली गई।

janjgir_champa_crime.jpg
CG Crime News: जांजगीर जिले में गृह मंत्री के आदेश की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। सरकार बनते ही गृह मंत्री अलर्ट मोड में आई थी और अवैध शराब बिक्री पर अंकुश लगाने के लिए सभी होटल ढाबों में लगातार छापेमारी की गई थी। इसके बाद अब यह अभियान ठंडे बस्ते में चली गई। अब अधिकारियों को शराब कहां बिक रही है कौन बेच रहा है इससे उसका दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है। ऐसा ही कुछ इन दिनों जांजगीर जिले में चल रहा है।
जिले के एक दो नहीं बल्कि अधिकांश ढाबे में डिमांड के हिसाब से शराब मिल ही जाएगी। शराब की सप्लाई से लेकर ब्रिकी तक का जिम्मा आबकारी विभाग का है मगर विभाग शुतुरमुर्ग बनकर आंख मूंदे हुए हैं अब इंतजार है तो सिर्फ पुलिस कार्रवाई का। जिला मुख्यालय से दोनों ओर एनएच 49 में कई होटल ढाबा स्थित है। जहां ढाबे में लोगों को खाना के साथ शराब परोसा जाता है। यह बिलासपुर जांजगीर नेशनल हाईवे तिलाई के आसपास वहीं जांजगीर से चांपा के बीच स्थित कई ढाबा है। जहां बेखौफ होकर खुले आम लोगों को शराब पीने के लिए जगह दी जाती है। हालांकि अबकारी मामले में कार्रवाई करने का अधिकार पुलिस को भी है मगर पूरी जवाब देही अबकारी विभाग की बनती है। अबकारी विभाग के अधिकारी ऐसी शिकायतों की अनदेखी करते हैं।
यह भी पढ़ें

बच्चों के बीच पहुंचे कलेक्टर ने सुनाया ये गाना, परीक्षा के तनाव को दूर करने दिए टिप्स

गृह मंत्री ने नशे के खिलाफ कार्रवाई के दिए थे आदेश

गृहमंत्री विजय शर्मा ने कहा था कि अवैध नशे के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करें। आबकारी विभाग को पुलिस की तर्ज पर अवैध शराब के विरुद्ध कार्रवाई करनें का अधिकार है। मगर अपने दायित्वों से बचने के लिए हमेशा आबकारी विभाग पुलिस की कार्रवाई का इंतजार करती है। विभाग की मौन सहमति के बाद लाखों के अवैध शराब जिले के ढाबे में खुले तौर पर बिक रही है।
शिकायत मिलते ही आबकारी विभाग द्वारा होटल ढाबों में आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हैं। पहले भी कई बार छापेमारी कर कार्रवाई की जा चुकी है। - प्रवीण वर्मा, एसी, आबकारी

यह भी पढ़ें

तेज रफ्तार का कहर! पिकअप सवार युवकों को हाइवा ने मारी जबरदस्त टक्कर, 2 की दर्दनाक मौत

ट्रेंडिंग वीडियो