बिजली का तार टूटा, बाड़ी में रखे पैरा व छेना में लगी आग, आनन-फानन में बुलाया गया दमकल

बिजली का तार टूटा, बाड़ी में रखे पैरा व छेना में लगी आग, आनन-फानन में बुलाया गया दमकल

Shiv Singh | Publish: May, 17 2018 08:08:44 PM (IST) Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India

~ भागीरथी का परिवार बाल-बाल बचा -पड़ोस के घर के बड़ी में रखे लकड़ी में लगी आग

शुक्रवार को मुलमुला थाना के पकरिया गांव में एक ग्रामीण के घर के बाड़ी में रखे पैरा व छेना में बिजली तार टूटने से आग लग गई। शासकीय हाई स्कूल के पास अमहा तालाब के निकट रहने वाले भागीरथी केंवट के घर के ऊपर से 11सौ केवी का तार गया हुआ है, जो अचानक टूट कर ज़मीन पर गिरा जिससे भागीरथी के बारी में रखा पैरा व छेना में आग लग गई। इसकी चपेट में आने से एक गर्भवती गाय की बिजली में चिपक कर मौके पर मौत हो गई। घर के आंगन में काम कर रहे भागीरथी का परिवार बाल-बाल बच गए। बगल वाले घर के बाड़ी में रखी लकड़ी भी जल गई।

Read More : कीर्तन-भजन कर इस गांव की महिलाओं ने किया विरोध प्रदर्शन, जानिए किस बात को लेकर ग्रामीण हैं आक्रोश

बस्ती अंदर बड़े गौटियापारा में भी तार टूटाा जिससे बोरिंग में पानी भर रही महिला अपनी जान बचा कर भागी। एक बड़ी दुर्घटना होते-होते बच गई। गांव में और कई जगह तार टूटने का मामला सामने आया जिससे बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही उजागर हुई।

आग को बुझाने के लिए परिजनों ने बोरिंग तालाब से पानी लाकर पैरा छेना में डाला लेकिन आग पर काबू नही पाया गया। इसके बाद समीपस्थ केएसके पावर प्लांट के फायर बिग्रेड को सूचना दी गई। केएसके पावर प्लांट का फायर बिग्रेड की गाड़ी पहुंचने के बाद आग पर काबू पाया गया। आग इतनी अधिक थी कि आग बुझाते फायर ब्रिगेड का पानी भी खत्म हो गया।

इसके बाद दमकल गाड़ी पर दोबारा गांव के युवा समाजसेवी मोहन पाण्डेय के प्लाट से पानी भर कर लाया गया जिससे दमकल कर्मियों के द्वारा आग पर काबू पाया गया। बार-बार गांव वालों के द्वारा खंभा लाइन की मानिटरिंग करने की सूचना दी गई। इसके बाद भी बिजली विभाग उदासीन रवैया जस का तस बना हुआ है। जिससे ग्रमीणों को इस तरह छोटी-बड़ी घटनाओं का सामना करना पड़ रहा है।

Ad Block is Banned