झालावाड़ जिले में पांच घंटे मूसलाधार, सारोला व दादिया में बाढ़ जैसे हालात

जिले भर में गुरुवार तड़के सुबह करीब 10 बजे तक मूसलाधार बरसात हुई। इससे सरोला व खानपुर क्षेत्र में कुछ देर के लिए बाढ़ जैसे हालात हो गए। कई घरों, दुकानों व स्कूलों में पानी भर गए।

By: kamlesh

Published: 03 Sep 2020, 06:47 PM IST

झालावाड़। जिले भर में गुरुवार तड़के सुबह करीब 10 बजे तक मूसलाधार बरसात हुई। इससे सरोला व खानपुर क्षेत्र में कुछ देर के लिए बाढ़ जैसे हालात हो गए। कई घरों, दुकानों व स्कूलों में पानी भर गए।

इससे किसानों का घरों में रखा लहसुन व अन्य फसलें खराब हो गई। झालावाड़ शहर में गुरुवार को बारिश का दौर तड़के पांच बजे से शुरू हुआ। जो सुबह करीब 11 बजे तक चलता रहा। जिले में सुबह 8 बजे तक औसत 8.58 एमएम बारिश हो चुकी थी। वहीं अभी तक जिले में 692.63 एमएम बारिश हो चुकी है।

सारोलाकलां में गुरुवार सुबह 5 से 9 बजे तक मूसलाधार बरसात होने से खाळ-नालों में उफान आ गया। इससे सारोला व दादिया गांव में बाढ़ जैसे हालात हो गए। सारोला में बैंक चौराहे रोड पर आधा दर्जन दुकानों में बरसाती पानी भर गया। खाळ में उफान से घरों व स्कूल में करीब 5 फीट तक पानी भर गया।

कालीसिंध बांध के चार गेट खोले
कालीसिंध बांध में तेज बारिश से पानी की आवक अधिक से गुरूवार सुबह 4 गेट 16 मीटर तक खोल कर 64 हजार क्यूसेक पानी की निकासी की गई।

कई मार्ग बाधित
अकलेरा-हरनावदा मार्ग पर 3 फीट, मंडावर से चंगेरी मार्ग पर आहू एवं कालीसिंध नदी में एक से दो फीट , घाटोली से केलखोयरा मार्ग पर बाढ़ाहेड़ा नदी में 2 फीट पानी की आवक के चलते यह मार्ग बाधित रहा। जिले में शाम पांच बजे तक सर्वाधिक बारिश रायपुर में 100 एमएम हुई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned