इस एप के जरिए आप भी कमा सकते हैं न्यूनतम 500 डॉलर, जानिए क्या करना है

इस एप के जरिए आप भी कमा सकते हैं न्यूनतम 500 डॉलर, जानिए क्या करना है

Sunil Sharma | Publish: Sep, 03 2018 11:09:31 AM (IST) जॉब्स

'अपलाइव' के जरिए आप अपनी कला, कौशल व डायलॉग्स का सीधा प्रसारण (लाइव स्ट्रीमिंग) कर उससे अच्छा-खासा पैसा कमा सकते हैं। औसतन एक अपलाइव स्ट्रीमर आराम से 500 डॉलर तक की कमाई कर रहा है।

अगर आप कहानी कहने की कला जानते हैं और कुछ नया कंटेंट तैयार कर सकते हैं तो अब आप भी घर बैठे हजारों डॉलर हर महीने कमा सकते हैं। शर्त केवल इतनी सी है कि आप अपने तरीके से लोगों का दिल जीत सकें। जी हां कुछ ही महीने पहले लॉन्च हुआ मोबाइल एप 'अपलाइव' अपने यूजर को ऐसा मौका दे रहा है।

'अपलाइव' के जरिए आप अपनी कला, कौशल व डायलॉग्स का सीधा प्रसारण (लाइव स्ट्रीमिंग) कर उससे अच्छा-खासा पैसा कमा सकते हैं, इसलिए लोग इसे पसंद कर रहे हैं। भारत में महज कुछ ही महीनों में इसके 50 लाख यूजर हो चुके हैं। औसतन एक अपलाइव स्ट्रीमर आराम से 500 डॉलर तक की कमाई कर रहा है।

'अपलाइव' के सह-संस्थापक ओयांग यून ने कहा कि हांगकांग से सफर की शुरुआत करने के बाद अब पूरी दुनिया को 'मोबाइल इंटरेक्टिव इंटरटेनमेंट' का जायका पड़ोसने वाले लाइव स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म 'अपलाइव' को भारत में लोग काफी पसंद कर रहे हैं।

यून ने अपने प्लेटफॉर्म के बारे में बताया कि 'अपलाइव' एशिया इनोवेशन ग्रुप (एआईजी) की एक शाखा है, जो अपने यूजर को मोबाइल इंटरेक्टिव इंटरटेनमेंट कंटेंट मुहैया करवाता है। यून ए.आई.जी. के प्रेसिडेंट हैं। उन्होंने कहा कि 'अपलाइव' एक मोबाइल एप है जिसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है और इस पर रियल टाइम में लाइव वीडियो देखा जा सकता है या प्रसारित किया जा सकता है।

उन्होंने कहा, ''खास बात यह है कि कलाकार अपनी कला का लाइव प्रसारण कर इस पर कमाई भी कर सकते हैं। उनके वीडियो को लाइक करने व शेयर करने पर उनको उसके लिए भुगतान भी किया जाता है।'' उन्होंने बताया कि अपलाइव ब्लॉकचेन प्रोटोकॉल के द्वारा अपने यूजर को कंटेंट क्रिएटर को वर्चुअल गिफ्ट प्रदान करने की सुविधा देता है जिसे रुपयों से बदला जा सकता है

उन्होंने बताया कि 'अपलाइव' का मुख्यालय हांगकांग में है और दुनियाभर में इसके 14 कार्यालय हैं। यून ने बताया कि अपलाइव 2016 में हांगकांग में लांच हुआ था और वर्तमान में दुनिया के 100 देशों में इसने अपनी पहुंच बना ली है। उन्होंने बताया कि उनके प्लेटफॉर्म पर दुनियाभर में छह करोड़ यूजर हो गए हैं और हर महीने करीब पांच लाख यूजर जुडऩे लगे हैं। उन्होंने कहा कि इस एप्लीकेशन में फिलहाल 16 भाषाओं की सुविधा उपलब्ध है जिनमें अंग्रेजी, हिंदी, चीनी, फ्रेंच, स्पेनिश, पुर्तगाली, थाई समेत अन्य देशों की भाषाएं शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि भारत चीन की तरह ही बड़ा बाजार है और पिछले कुछ महीनों से यहां रोजाना एक लाख लोग इससे अब जुडऩे लगे हैं। भारत में अपलाइव के मार्केंटिंग प्रमुख रवीश जैन ने कहा ''हम अपने साथ ऐसे स्ट्रीमर को जोडऩा चाहते हैं जो बेहतरीन गुणवत्ता वाला कंटेंट दे सकें। चाहे वह भारतीय संगीत हो, टॉक शो हो या फिर कुछ और। हर किसी के पास बताने के लिए कोई न कोई कहानी है।''

जैन ने कहा, ''हमारा मानना है कि अपनी कहानी बताने के लिए लाइव स्ट्रीमिंग से बेहतर और आसान कोई माध्यम नहीं है। यह प्लेटफॉर्म अपने आप में ही इंटरेक्टिव, एंगेजिंग एवं आसानी से एक्सेसिबल है।'' 'अपलाइव' को पूरी दुनिया में बेहतरीन मोनेटाइजेशन मॉडल के लिए जाना जाता है जोकि स्ट्रीमर को अपने रिवेन्यू का हिस्सेदार बनाता है। उन्होंने कहा कि यह रिवेन्यू उन स्ट्रीमर को मिलता है जो अपलाइव के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन कर चुके हैं।

Ad Block is Banned