पढ़ाई के लिए विदेश भेजने के नाम 23 लाख रुपए ऐंठे

- 25.50 लाख रुपए लेकर 2.5 लाख लौटाए
- शेष राशि के तीन चेक अनादरित हुए

By: Jay Kumar

Published: 24 Sep 2020, 11:16 AM IST

जोधपुर. शास्त्रीनगर में पीएनटी चौराहे के पास स्थित एक कम्पनी पर पढ़ाई के लिए विदेश भेजने के नाम पर २३ लाख रुपए ऐंठने का आरोप लगाकर शास्त्रीनगर थाने में एफआइआर दर्ज कराई गई।

पुलिस के अनुसार चौहाबो में सेक्टर १५ निवासी मुकेश पुत्र श्याम नारंग ने कोर्ट में पेश इस्तगासे के आधार पर पीएनटी चौराहे के पास स्थित आलोक ओवरसीज कंसल्टेंस के निमित नेता व आलोक मेहता के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। आरोप है कि विज्ञापन देख उसने पुत्र को पढ़ाई के लिए विदेश भेजने का निर्णय किया।

उन्होंने जून २०१७ में कम्पनीे में सम्पर्क किया तो विदेश में विश्वविख्यात विश्वविद्यालय में प्रवेश, फॉर्म जमा कराने, फीस, वीजा व हॉस्टल का २५.५ लाख रुपए में खर्च बताया। यह राशि मुकेश ने अलग-अलग किस्तों में जमा करवाई। फिर जब पुत्र विदेश में विश्वविद्यालय पहुंचा तो पता लगा कि उसका प्रवेश तक नहीं हुआ है। पिता ने आरोपी से सम्पर्क किया तो उसने राशि भेजने में असमर्थता जताई और पिता से आग्रह किया कि वे राशि जमा करवा दे। वो उन्हें राशि लौटा देगा। बाद में मुकेश नारंग ने राशि के लिए सम्पर्क किया तो आरोपी ने २.५ लाख रुपए लौटाए। शेष २३ लाख रुपए के लिए दस-दस लाख के दो व तीन लाख का एक चेक दिया, लेकिन तीनों चेक अनादरित हो गए।

Show More
Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned